Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

गुरुवार, 9 जुलाई 2020

शातिराना अंदाज में विकास दुबे ने दी उज्जैन के महाकाल मंदिर पहुँचकर किया आत्म समर्पण, पाँच लाख इनामिया बदमाश को लेने रवाना हुई UP पुलिस की पाँच टीमें

➤रस्सी जल गई,पर बल नहीं गया... यह कहावत विकास दुबे पर एकदम सही बैठता है  गिरफ्तारी के बाद भी उसके आवाज में अभी भी तल्खी है...


 आखिरकार सावन मास में महाकाल मंदिर में विकास का काल खत्म हुआ...
दुर्दांत अपराधी विकास दुबे के चिल्लाने पर कि वही है, कानपुर वाला विकास दुबे तो एमपी पुलिस के जवान ने जड़ा एक जोरदार चाटा...

दुर्दांत पाँच लाख का इनामिया शातिर अपराधी विकास दुबे उज्जैन के महाकाल मंदिर से पकड़ा गया या खुद वहाँ से चाहता था पकड़ में आ जाना ये गूढ़ रहस्य हर किसी को कौंध रहा है। क्योंकि महाकाल मंदिर में शातिर अपराधी विकास दुबे स्वयं पहुँचा और पूजा के लिये 250 रुपये की पर्ची कटाई। जब पर्ची पर विकास दुबे से नाम लिखने के लिये पूछा गया तो वह अपना नाम  विकास दुबे ही बताया। शक होने पर मंदिर के सुरक्षाकर्मी अलर्ट हुए और मंदिर प्रशासन ने महाकाल चौकी पुलिस को सूचना दी उसके बाद मध्य प्रदेश की पुलिस सक्रिय हुई और विकास दुबे को महाकाल मंदिर पहुंचकर अपनी  गिरफ्त में लेकर किसी सुनसान इलाके में चली गई। पूरे एक सप्ताह के बाद पाँच लाख का इनामी शातिर अपराधी विकास दूबे स्वयं महाकाल मंदिर जाकर पहले दर्शन किया और बाद में मध्य प्रदेश पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। आत्म समर्पण करने से पहले विकास दुबे जोर जोर से चिल्ला रहा था कि हाँ वह विकास दुबे कानपुर वाला है...


लोगों ने माना कि वास्तव में विकास दुबे बहुत ही शातिर और राजनीतिक पकड़ वाला कुख्यात अपराधी है...

"सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक तिवारी नाम के एक शख्स ने उसकी मदद की उसी ने ही विकास दुबे को महाकाल मंदिर तक पहुंचाया जहां पर विकास दुबे ने स्वयं को आत्म समर्पण किया उसने बड़े शातिर अंदाज में कैमरे के सामने कहा कि वह विकास दुबे, कानपुर वाला है वह यह जानता था कि यही एक तरीका है, जिससे वह एनकाउंटर से बच सकता है क्योंकि अभी तक उसके पांच गुर्गे मार गिराए गए हैं..."
जबकि इज्जत बनाने के लिए अब उज्जैन के एसपी मनोज सिंह का बयान आया है कि विकास गुप्ता सरेंडर नहीं किया, बल्कि उसे मध्य प्रदेश की पुलिस गिरफ्तार किया है विकास दुबे के समर्पण के बाद यूपी पुलिस को पाँच लाख के इनामिया बदमाश विकास दुबे की गिरफ्तारी की सूचना दी गई। यूपी पुलिस की पाँच टीमें पाँच लाख के इनामिया शातिर बदमाश विकास दुबे को लेने उज्जैन रवाना हो लिया। UP पुलिस के पहुंचने से पहले शातिर अपराधी विकास दुबे को मीडिया से दूर रखा जाएगा। कुख्यात अपराधी विकास दुबे को सुरक्षित जगह पर मध्य प्रदेश की पुलिस द्वारा ले जाया गया। भारी सुरक्षा ब्यवस्था में इनामिया बदमाश विकास दुबे को उज्जैन पुलिस ने रखा है 
         राजनीतिक संरक्षण के बिना खुंखार अपराधी विकास दुबे यूँ हिन् नहीं पहुँच गया महाकाल मंदिर...

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विकास दुबे की उज्जैन से गिरफ्तारी के मामले पर उत्तर प्रदेश के CM योगी आदित्यनाथ से फोन पर चर्चा की है। मध्य प्रदेश पुलिस, विकास दुबे को यूपी पुलिस को हैंड ओवर करेगी। इसीबीच एमपी के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा का बयान भी आ गया है। कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे की गिरफ्तारी पर एमपी के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बयान दिया है। अभी मध्य प्रदेश पुलिस की कस्टडी में विकास दुबे है। शातिर अपराधी विकास दुबे की गिरफ्तारी कैसे हुई ? इसके बारे में अभी कुछ भी कहना ठीक नहीं ! मंदिर के अंदर गिरफ्तारी हुई या बाहर से गिरफ्तारी हुई ? इसके बारे में कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी। गैंगेस्टर अपराधी विकास दुबे कुरुरता की सारी हदें पार कर दिया था। इंटेलीजेंस की बात है, ज्यादा कुछ भी कहना सही नहीं। वारदात होने के बारे से ही हमने पूरी म प्र पुलिस को अलर्ट पर रखा था। 


                                पुलिस की गिरफ्त से पहले महाकाल मंदिर परिसर में गंगेस्टर अपराधी विकास दुबे...

विकास दुबे को पाँच राज्यों की पुलिस फरीदाबाद से लेकर एनसीआर में उसे खोजती रही और शातिर बदमाश विकास उज्जैन पहुंच गया इस बीच बड़े शातिराना अंदाज में उसने अपना आत्म सम्पर्पण किया या यूं कहें उसने सरेंडर ही किया। कानपुर में आठ पुलिस कर्मियों की हत्या के बाद से फरार चल रहा पांच लाख का इनामी विकास दुबे आज सातवें दिन उज्जैन के महाकाल मंदिर पहुँचा और पर्ची कटाकर पहले दर्शन किया,फिर अपना नाम विकास दुबे कानपुर वाला कहकर चिल्लाने लगा उसके बाद उज्जैन पुलिस को पकड़ कर उसकी गिरफ्तारी की घोषणा करती है। हालांकि अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी के मुताबिक़ मध्य प्रदेश के उज्जैन में पुलिस की देर रात से विकास दुबे पर नज़र थी महाकाल मंदिर के आस-पास उसने शरण ले रखी थी आज सुबह पुजारी की जानकारी के बाद पुलिस ने वहां से विकास को अपनी हिरासत में लिया विकास को लखनऊ लाया जा रहा है, उसके लिए पुलिस की पांच टीमें उज्जैन रवाना हो गई हैं शाम तक विकास दुबे लखनऊ पहुँच सकता है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें