Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

बुधवार, 8 जुलाई 2020

सफेद हाथियों को पालने के पार्टी के शौक की इतनी कीमत तो पार्टी की सरकार को चुकानी ही पड़ेगी

कानपुर कांड के बहाने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार की गजब धुलाई मीडिया विशेषकर न्यूज चैनलों पर कर रहा है,विपक्ष...


कानपुर में पुलिस के अधिकारियों एवं जवानों के साथ अपराधियों ने खेला खून की होली, बिकरू के बहाने योगी सरकार पर हमलावर हुआ विपक्ष...
केवल राष्ट्रीय न्यूज चैनलों पर ही नहीं बल्कि प्रदेश के क्षेत्रीय न्यूज चैनलों पर यह धुलाई और अधिक निरंकुश होकर प्रचंड निर्ममता के साथ की जा रही हैमूढ़मति एंकरों, एडिटरों की अंधाधुंधी वाचालता का तांडव इस धुलाई की प्रचंडता को दोगुना कर रहा हैइस सबसे इतर राजनीतिक सामाजिक प्रशासनिक घटनाक्रमों सन्दर्भों तथ्यों की शून्य जानकारी से पूर्ण रूप से सुसज्जित, अजब गजब भाजपाई प्रवक्ताओं (उत्तर प्रदेश के) की उपरोक्त न्यूज चैनली महफिलों (बहसों) में उपस्थिति योगी सरकार की उपरोक्त धुलाई में अभूतपूर्व योगदान दे रही हैसफेद हाथियों को पालने के पार्टी के शौक की इतनी कीमत तो पार्टी की सरकार को चुकानी ही पड़ेगी

आज एक न्यूज चैनल पर वरिष्ठ पत्रकार हर्षवर्धन त्रिपाठी जी ने टिप्पणी की कि योगी सरकार ने साढ़े तीन साल में जो कमाया था, उस सब पर कानपुर की घटना ने कालिख पोत दी हैत्रिपाठी जी की इस टिप्पणी से मैं शत प्रतिशत सहमत हूं, क्योंकि वर्तमान स्थिति चीख चीखकर यही संदेश दे रही हैलेकिन स्थितियां चाहे जितनी विपरीत क्यों न हों मैं "कबूतर को उल्लू" या "उल्लू को कबूतर" नहीं कहताकिसी अपराधी को कोई सरकार जब संरक्षण देती है तो नज़ारा क्या और कैसा होता है ? सरकार का संरक्षण प्राप्त अपराधी गिरफ्तारी से बचने के लिए आधा दर्जन से अधिक पुलिस वालों को मौत के घाट उतार कर अपने डेथ वॉरंट पर हस्ताक्षर नहीं करताइसके बजाय ठाठ से गिरफ्तार होकर पुलिस की जीप में थाने आता है और थानेदार के साथ चाय कॉफ़ी पीता है क्योंकि वह जानता है कि उसकी गिरफ्तारी कुछ घण्टों या दिनों की बात हैभाजपाई प्रवक्ता इतनी सी बात भी नहीं समझा सके हैं
प्रस्तुति :- सतीश मिश्र

2 टिप्‍पणियां:

  1. Aap accha likhte h, baad mein sab khoj been band bhi ho jati h .
    Bhala kyu ..?

    जवाब देंहटाएं
  2. ये तो सिस्टम वाले ही बता सकते हैं ! हमारा काम जो है वो इमानदारी से निर्वहन करता हूँ !

    जवाब देंहटाएं

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें