Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

मंगलवार, 21 जुलाई 2020

प्रतापगढ़ जिले में फूटा कोरोना बम, फतनपुर थाने के 9 पुलिसकर्मियों समेत 19 की रिपोर्ट आई कोरोना पॉजिटिव

जनपद प्रतापगढ़ में 9 पुलिस कर्मियों को कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने से पुलिस महकमें में मचा हड़कंप...

 पांच दिन पहले एक पुलिसकर्मी की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आयी थी,रिपोर्ट...
कोरोना योद्धाओं को भी कोविड-19 बनाने लगा अपना संक्रमण, 5दिन पहले फतनपुर थाने के एक पुलिसकर्मी की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने पर अन्य पुलिसकर्मियों की कराई गई थी, सैम्पलिंग। 9पुलिसकर्मियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने से पुलिस महकमे में हड़कम्प मच गया है।अभी तक कोरोना का संक्रमण कोरोना योद्धाओं को प्रभावित नहीं कर प् रहा था, परन्तु दिन प्रतिदिन कोरोना वायरस संक्रमण का प्रभाव कोरोना योद्धाओं को भी अपनी चपेट में लेने से नहीं छोड़ रहा है...
प्रतापगढ़। उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में नौ पुलिसकर्मियों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पायी गयी है। नौ पुलिसकर्मियों के कोरोना पॉजिटिव मिलने से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। यह सभी पुलिसकर्मी फतनपुर थाने के हैं। पांच दिन पहले फतनपुर थाने में एक पुलिसकर्मी की कोरोना जांच की रिपोर्ट पॉजिटिव पायी गयी थी। इसके बाद एहतियातन सभी पुलिसकर्मियों के सेम्पल कलेक्ट कर जांच के लिए भेजे गये थे। 21 जुलाई, 2020 को थाने के नौ पुलिसकर्मियों की रिपोर्ट पॉजिटिव पायी गयी है।

20 जुलाई, 2020 को पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह ने रानीगंज सर्किल के पुलिसकर्मियों के साथ बैठक लेकर अपराधिक स्थितियों की समीक्षा की थी। इसके दूसरे ही दिन फतनपुर थाने में तैनात नौ पुलिसकर्मियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव मिलने से हड़कंप मच गया है। एहयितान सभी को होम कोरेंटाइन किया जा रहा है। जिनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है उन्हें इलाज के लिए ले जाया गया है।
देश में तेजी से बढ़ता कोरोना का संक्रमण...
देश में कोरोना मरीजों की संख्या साढ़े 11 लाख के पार...
देश में कोरोना मरीजों की संख्या 11 लाख 56 हजार 82 हो चुकी है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार 21 जुलाई 2020 की सुबह अपने आंकड़े जारी किए। इसके मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 37 हजार 148 मामले सामने आए और 587 मौतें हुईं । वहीं, अब तक देश में 11 लाख 55 हजार 191 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें 4 लाख 2 हजार 259 एक्टिव केस हैं तो 7 लाख 24 हजार 578 ठीक हो चुके हैं। वहीं, अब तक 28 हजार 084 लोगों की जान जा चुकी है। इंडियन काउंसिल आफ मेडिकल रिसर्च ने बताया कि देश में अब तक 1 करोड़ 43 लाख 81 हजार 303 टेस्ट किए जा चुके हैं। वहीं, पिछले 24 घंटे में 3 लाख 33 हजार 395 लोगों की जांच की गई।

हानिकारक हो सकता है,एन-95 मास्क...
 कोरोना वायरस के संक्रमण से एन-95 मास्क के फायदे और नुकसान ...
केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने सभी राज्यों को एन-95 मास्क के इस्तेमाल करने के खिलाफ चेतावनी दी है। इसमें कहा गया है कि एन-95 मास्क हानिकारक हो सकता है क्योंकि वाल्व वायरस को मास्क से बाहर निकलने से नहीं रोकते हैं। मंत्रालय की वेबसाइट पर घर में चेहरे के बनाए लिए प्रोटेक्टिव कवर बनाने के दिशा निर्देश दिए गए हैं। स्वास्थ्य सेवाओं के महानिदेशक प्रोफेसर राजीव गर्ग ने सोमवार को सभी राज्यों के स्वास्थ्य सचिवों को एक पत्र जारी किया है।

राज्यों को लिखे पत्र में कहा गया है कि यह देखने में आया है कि मेडिकल हेल्थ वर्कर्स के अलावा जनता द्वारा भी एन-95 मास्क का इस्तेमाल किया जा रहा है जबकि इसमें छिद्रयुक्त श्वसनयंत्र (वॉल्व्ड रेस्पिरेटर) लगे हुए है जो वायरस को मास्क में रोकते नहीं है। उन्होंने कहा कि मिनिस्ट्री आफ हेल्थ एंड फैमली वेलफेयर की वेबसाइट पर चेहरे ओर मुंह के मास्क के लिए एडवाजरी मौजूद है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें