Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

बुधवार, 3 जून 2020

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष पद से हटाये गए रिंकिया के पापा मनोज तिवारी, आदेश कुमार गुप्ता को मिली दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष की कमान


दिल्ली विधानसभा चुनाव में हार के तीन महीने बाद मनोज तिवारी को अपना पद खोना पड़ा...

मनोज तिवारी की जगह दिल्ली के प्रदेश अध्यक्ष पद पर आदेश गुप्ता की हुई तैनाती
नई दिल्ली। कोरोना संकट के बीच भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष पद से मनोज तिवारी को हटा दिया है। उनकी जगह अब आदेश कुमार गुप्ता दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष होंगे। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह ने आज संगठन में इस फेरबदल की जानकारी दी। पार्टी की ओर से जारी विज्ञप्ति में बताया गया है कि आदेश कुमार गुप्ता को दिल्ली बीजेपी का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। यह नियुक्ति तत्काल प्रभाव से लागू होगी आदेश गुप्ता उत्तरी दिल्ली नगर निगम का महापौर रहे हैं वर्तमान में वे पटेल नगर से पार्षद हैं। 

पुराने नेता हैं,आदेश कुमार गुप्ता...

दिल्ली के प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी पर विराजमान मनोज तिवारी की जगह दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष का पद संभालने वाले आदेश कुमार गुप्ता पार्टी के पुराने नेता रहे हैं वे उत्तरी दिल्ली नगर निगम के मेयर भी रह चुके हैं। वर्तमान में पश्चिमी पटेल नगर से पार्षद हैं। इसके अलावा वे दिल्ली शेल्टर इंप्रूवमेंट बोर्ड के भी मेंबर हैंकोरोना वायरस से जंग के दौरान दिल्ली में आदेश कुमार गुप्ता सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहे हैंजरूरतमंद लोगों को भोजन पहुंचाने या अन्य सहायता करने में वे बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते रहे हैं हाल ही में कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज को लेकर भी उन्होंने केजरीवाल सरकार के ऊपर सवाल उठाया था। दिल्ली में कोरोना पीड़ितों का सरकारी अस्पतालों में इलाज न होने और प्राइवेट अस्पतालों में ज्यादा पैसे लेकर इलाज करने के आरोप लगाते हुए उनका एक वीडियो भी अभी हाल ही में आया था

भाजपा नेता मनोज तिवारी 
भारतीय जनता पार्टी की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष मनोज तिवारी को उनके पद से हटाकर आदेश गुप्ता को प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है। बता दें कि मनोज तिवारी का कार्यकाल भी समाप्त हो गया था, जिसके चलते यह फैसला लिया गया है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने उन्हें दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष पद पर नियुक्त किया है। मनोज तिवारी को पद से क्यों हटाया गया ? इसके पीछे की वजह फिलहाल साफ नहीं है। माना जा रहा है कि बीजेपी ने यह चेहरा व्यापारी वर्ग को खुश करने के लिए आगे किया है। मनोज तिवारी को पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ सोमवार को लॉकडाउन के नियम का उल्लंघन करने के आरोप में हिरासत में लिया गया था। वे दिल्ली में कोविड-19 को नियंत्रित करने में अरविंद केजरीवाल सरकार की नाकामी के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए राजघाट पर जमा हुए थे। बता दें कि आदेश गुप्ता पटेल नगर से पार्षद हैं दरअसल दिल्ली चुनाव में हार के बाद खुद मनोज तिवारी ने अपने पद से इस्तीफे की पेशकश की थी, लेकिन उस वक्त उसे नामंजूर कर दिया गया था हाल में ही उनका एक क्रिकेट खेलते हुए वीडियो भी सामने आया था, जिसमें उन्हें लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करते हुए देखा गया


मनोज तिवारी सहित बदले गए 3प्रदेशों के BJP अध्यक्ष...

छत्तीसगढ़ के बीजेपी अध्यक्ष विष्णुदेव साय
दिल्ली के अलावा छत्तीसगढ़ के बीजेपी अध्यक्ष को भी हटा दिया गया है उनकी जगह पर विष्णुदेव साय को प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है मणिपुर में भी नए प्रदेश अध्यक्ष की नियुक्ति की गई है अब एस टिकेंद्र सिंह के हाथों में मणिपुर बीजेपी की कमान दी गई है तीनों प्रदेश अध्यक्षों की घोषणा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के निर्देश पर हुई। भारतीय जनता पार्टी की केंद्रीय इकाई ने आदेश गुप्ता को दिल्ली प्रदेश बीजेपी का नया अध्यक्ष नियुक्त किया है। आदेश गुप्ता को जमीनी नेताओं में माना जाता रहा है। उत्तरी MCD के मेयर रहे आदेश गुप्ता की स्थानीय राजनीति में मजबूत पकड़ है। 

भाजपा द्वारा प्रदेश अध्यक्ष बदलने का अधिकृत पत्र 
भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने आदेश जारी करते हुए दो और प्रदेशों में नए अध्यक्ष नियुक्त किए हैं। छत्तीसगढ़ में विष्णु देव साय को बीजेपी अध्यक्ष बनाया गया है। वहीं एस टिकेंद्र सिंह को मणिपुर में ​बीजेपी का अध्यक्ष बनाया गया है। गौरतलब है कि दिल्ली चुनाव में भाजपा के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद से ही माना जा रहा था कि भाजपा मनोज तिवारी को दोबारा अध्यक्ष नहीं बनाएगी। चुनाव के बाद से ही इस पद के लिए लॉबिंग तेज हो गई थी। कई नेता इस पद के लिए अपनी जुगत लगा रहे थे। पार्टी के सूत्रों का ये भी कहना है कि अगर तिवारी को प्रदेश अध्यक्ष पद पर दोबारा मौका नहीं दिया गया है तो उन्हें दूसरी बड़ी जिम्मेदारी देनी होगी। क्योंकि वे पार्टी के स्टार प्रचारक है और दिल्ली में पूर्वांचली चेहरा भी हैं। यह फैसला आने वाले एमसीडी चुनाव को ध्यान में रखकर भी किया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें