Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

गुरुवार, 25 जून 2020

गीता मिश्रा ने उच्च न्यायालय इलाहाबाद "खण्डपीठ" लखनऊ में दाखिल की जनहित याचिका

प्रतापगढ़ नगरपलिका सीमा विस्तार पर अब अंतिम निर्णय होगा हाईकोर्ट के हवाले...


समाजसेविका गीता मिश्रा...
प्रतापगढ़ नगरपालिका चेयरपर्सन पद के निर्वाचन से राजनीति की शुरुवात करने वाली गीता मिश्रा ने सीमा विस्तार को हाईकोर्ट में चुनौती है मनमानी तरीके से चेयरमैन रहे हरि प्रताप सिंह के इशारे पर जिला प्रशासन ने सीमा विस्तार की कारवाई की थी और नगरपालिका परिषद् बेला-प्रतापगढ़ सीमा विस्तार के प्रकरण को गीता मिश्रा ने जिला प्रशासन और उत्तर प्रदेश शासन के समक्ष आपत्ति दाखिल की थी शासन और जिला प्रशासन के अड़ियल रवैये से आहत होकर समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार रही गीता मिश्रा ने जनहित में लिया कोर्ट जाने का निर्णय लिया है। 

सूबे में योगी सरकार ने 30जून को सीमा विस्तार किये गए ग्राम सभाओं को निकायों में लेने के लिए मन बना रखा है इसके पहले उत्तर प्रदेश की सरकार ने 31मार्च को सीमा विस्तार में लिए गए ग्राम सभाओं को नगरपालिका में शामिल करने की तैयारी की थी, परन्तु कोरोना संक्रमण काल और लॉकडाउन से 3 माह सीमा विस्तार का समय बढ़ाया गया। ग्राम पंचायतों के प्रतिनिधियों की तरफ से पूरे केशवराय की ग्राम प्रधान मालती सिंह की तरफ से पहले से ही उच्च न्यायालय इलाहाबाद "खण्डपीठ" लखनऊ में याचिका दाखिल है उक्त दाखिल याचिका में अभी तक कोई आदेश नहीं हो सका है। इसीबीच नगरपलिका परिषद् बेला-प्रतापगढ़ के चेयरपर्सन पद का चुनाव लड़ने वाली समाजवादी पार्टी की उम्मीदवार गीता मिश्रा पत्नी राम कृष्ण मिश्र उर्फ़ गुड्डू ने जनहित के विपरीत लिए गए निर्णय का शासन व प्रशासन में विरोध किया और बात न बनने पर एक जागरूक नागरिक होने के नाते सीमा विस्तार की अंतिम लड़ाई को उच्च न्यायालय के दरवाजे तक ले गई हैं। कल कोर्ट नंबर-16 में क्रम संख्या-58 पर सुनवाई होना सुनिश्चित हुआ है

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें