Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

सोमवार, 1 जून 2020

उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज की कोरोना रिपोर्ट आई पॉजिटिव

  • पत्नी के बाद सतपाल महाराज, दो बेटे और दो बहुएं कोरोना पॉजिटिव
  • मंत्री सतपाल महाराज के 17 स्टाफ कर्मी भी निकले कोरोना पॉजिटिव
  • कुछ दिन पहले सतपाल महाराज ने अपने क्षेत्र में किया था राशन वितरण
  • राशन वितरण में शामिल जनता पर भी संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है

कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज व पत्नी अमृता रावत
देहरादून उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज समेत 22 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने से उत्तराखंड की रावत सरकार में हडकंप मच गया है। इससे पहले शनिवार को उनकी पत्नी अमृता रावत कोरोना पॉजिटिव पाई गईं थी, जिसके बाद उनके सैंपल लिए गए थे। रविवार को मिली रिपोर्ट में सतपाल महाराज, उनके एक बेटे, पोते और बहुओं में भी कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। एक बेटे की रिपोर्ट पर संशय होने पर सैंपल दोबारा लिया गया है। वहीं, कर्मचारियों के सैंपल में 17 लोग पॉजिटिव और 18 की रिपोर्ट नेगेटिव आई है।

कैबिनेट मंत्री महाराज की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद अब कैबिनेट के साथ ही कई अधिकारियों को भी क्वारंटाइन किए जाने की संभावना है। कैबिनेट मंत्री महाराज 29 मई को कैबिनेट की बैठक में शामिल हुए। सरकार के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि अब स्वास्थ्य विभाग की जो भी गाइडलाइन होगी, मंत्री और अधिकारी उसका अनुपालन करेंगे। कोरोना का संक्रमण अब इस कदर अपना पाँव देश के अलग-अलग राज्यों में जमा रहा है, जैसे बरसात के दिनों में नदियाँ उफान मारती हैंआखिर सारी सुख सुविधा से सम्पन्न मंत्रियों के यहाँ कोरोना का संक्रमण कैसे बढ़ रहा है ? जब मंत्रियों के आने जाने पर रोक लगी है और उनके यहाँ आवास पर भी सबकी इंट्री नहीं है,फिर भी कोरोना बम का इस कदर फटना सोचने और समझने पर विवश करता है

कुछ दिन पहले सतपाल महाराज अपने विधानसभा क्षेत्र भी गए थे। वहां उन्होंने राशन वितरण भी किया था। इस दौरान सतपाल महाराज की पत्नी भी साथ में थी। ऐसे में राशन वितरण में शामिल जनता पर भी संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है। सतपाल महाराज और उनकी पत्नी अमृता रावत मानव सेवा उत्थान समिति चलाते हैं। उनके तीर्थ नगरी हरिद्वार समेत देश भर में कई आश्रम भी हैं। इन आश्रमों से भी तमाम अनुयायियों का उनके घर आना जाना है। ऐसे में इस संक्रमण की जद में कितने लोग हैं इसका अनुमान अभी ठीक नहीं लग सकता है। 

सरकार के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि पूरी कैबिनेट नहीं होगी क्वारंटीन... 

सरकार के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक
मंत्री सतपाल महाराज के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव समेत सरकार के सभी मंत्रियों पर भी संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है। सतपाल महाराज ने बुधवार को हुई कैबिनेट मीटिंग में हिस्सा लिया था। उनके कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद अब सरकार के तमाम मंत्री मुख्यमंत्री और अधिकारियों के भी कोरोना टेस्ट कराने होंगे। इसके बाद तत्काल बाद मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव समेत सभी मंत्रियों को भी क्वारंटीन किए जाने की बात कही जा रही थी। हालांकि सरकार के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि आईसीएमआर की गाइडलाइन के अनुसार फर्स्ट कांटैक्ट में आने वाले लोगों को ही क्वारंटीन किया जाता है। ऐसे में उन्होंने सभी कैबिनेट मंत्री और अधिकारियों के क्वारंटीन होने की बात से इनकार कर दिया।

सतपाल महराज का परिवार निकला कोरोना संक्रमित 
मंत्री जी के दो बेटे और बहुएं भी निकली कोरोना संक्रमित...

सतपाल महाराज, उनके दो बेटे और बहुएं भी कोरोना पॉजिटिव पाई गई हैं। एक बेटे की रिपोर्ट पर संशय है, इसलिए उनका दोबारा सैंपल लिया जाएगा। साथ ही उनके स्टाफ के 17 लोग पॉजिटिव मिले हैं और 6 की दोबारा से जांच की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग ने सतपाल महाराज के घर काम करने वाले सभी कर्मचारियों को क्वारंटीन कर दिया है। साथ ही महाराज के परिवार को देहरादून के एक होटल में क्वारंटीन किया गया है। अब परिवार के सभी कोरोना पॉजिटिव लोगों को अस्पताल में भर्ती कराने की तैयारी है 

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें