Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

मंगलवार, 18 जून 2019

भाजपा के कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा के मनोनय के बाद उनसे मिलकर प्रतापगढ़ सांसद संगम लाल गुप्ता ने दी बधाई

प्रतापगढ़ के भाजपाई नेताओं को बहुत कम दिनों में कोसों दूर कर चुके संगम लाल गुप्ता का वर्त्तमान में पार्टी के भीतर हो चुकी है,अच्छी पकड़...!!! दरबारगीरी करने में संगम लाल गुप्ता का नहीं है,कोई तोड़। दिग्गज खानदानी पीढ़ी दर पीढ़ी वाले भाजपाई हो गए संगम लाल गुप्ता के आगे फिसड्डी...!!! 
विधायक पद को महज ढाई साल में अपने अनुरूप न मानकर सांसद बने संगम लाल गुप्ता जी जिले के सभी भाजपाई नेताओं को किनारे करते हुए अपने कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोनीत हुए जे पी नड्डा से मुलाकात की और उन्हें बधाई देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। फिलहाल राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर अमित शाह कायम रहेंगे और अमित शाह के रहते प्रतापगढ़ की विधानसभा सीट पर होने वाले उप चुनाव में संगम लाल गुप्ता किसे उम्मीदवार बनाते हैं ? नव निर्वाचित सांसद के बनने के बाद संगम लाल गुप्ता के त्यागपत्र से प्रतापगढ़ विधानसभा की सीट खाली हुई है। जब तक संगम लाल गुप्ता टिकट के लिये वाक ओवर नहीं दे देते तब तक दूसरे को टिकट पाने का मंसूबा नहीं पालना चाहिये। क्योंकि संगम लाल गुप्ता की पकड़ के आगे प्रतापगढ़ के सारे भाजपाई नेता बौने हो चुके हैं। चूँकि संगम लाल गुप्ता का सम्बन्ध सीधे राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से है। दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी से है। जेपी नड्डा जिसे कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोनीत किया गया वही अभी तक राष्ट्रीय महासचिव रहे और उन्हीं के हस्ताक्षर से लोकसभा उम्मीदवारों को सिम्बल दिये गए थे। अब प्रतापगढ़ के उप चुनाव में संगम लाल गुप्ता के रहते दूसरे ब्यक्ति टिकट पा जाए ये मुमकिन नहीं प्रतीत होता। जिस तरह सी एन सिंह प्रतापगढ़ सीट से विधायक रहते मछली शहर के सांसद निर्वाचित हुए थे और खाली हुई सीट से अपनी पत्नी उषा सिंह को सपा से टिकट दिलाकर चुनाव मैदान में उतारा था और बुरी तरह हार का सामना करना पड़ा और पहली बार सूबे में सोनेलाल पटेल की पार्टी अपना दल से हाजी मुन्ना सलाम ने खाता खोलकर प्रतापगढ़ के लिए गठबंधन रूपी कांटा बो दिया जो आज भी राजनीतिक लोंगो को चुभ रहा है। अब प्रतापगढ़ की खाली हुई सीट पर उप चुनाव में भाजपा के टिकट के लिए अभी से परिक्रमा शुरू हो चुकी है। अब देखना है कि संगम लाल गुप्ता ये टिकट पूर्व सांसद सी एन सिंह की तरह अपनी पत्नी को दिलाते हैं या अपने अनुज दिनेश गुप्ता को अथवा साथी के रूप में पंकज शुक्ला को दिलाते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें