Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

बुधवार, 10 अप्रैल 2019

प्रतापगढ़ सांसद कुँवर हरिवंश सिंह को बसपा और सपा के महागठबंधन से टिकट मिलने की खबर हो रही व्हाट्सएप ग्रुपों पर वायरल...!!!

13अप्रैल को व्हाट्सएप ग्रुपों पर सांसद कुँवर हरिवंश सिंह को उम्मीदवार बनाने का किया गया है,दावा...!!!
व्हाट्सएप ग्रुपों पर चल रही खबर को सांसद कुँवर हरिवंश सिंह ने किया खंडन और बताया बकवास...!!!
प्रतापगढ़। लोकसभा के प्रथम चरण का जहाँ कल मतदान होंगे वहीं अभी छठे और सातवें चरण के उम्मीदवारों के नामों को लेकर सोशल मीडिया में भ्रम फैलाया जा रहा है। सबसे खराब स्थिति भाजपा की है। वजह रूलिंग पार्टी का होना। एक-एक सीट पर फूँक-फूँक कर कदम उठाना और सोच समझकर उम्मीदवारों का चयन करना। प्रतापगढ़ संसदीय सीट सहित आधा दर्जन संसदीय पर स्थिति अभी भी साफ नहीं हुई है। प्रतापगढ़ संसदीय सीट पर प्रतिदिन भाजपा उम्मीदवार के रूप में एक नए नाम की सगूफेबाज़ी की जाती है। निश्चित रूप से किसी को नफा नुकसान की दृष्टि से ही ऐसी खबरें सोशल मीडिया के माध्यम से प्रयोजित कराई जाती हैं। आज सोशल मीडिया के महारथियों ने नई चाल चली और भाजपा शीर्ष नेतृत्व से से लगातार सम्पर्क बनाये रहने वाले प्रतापगढ़ के वर्तमान सांसद कुँवर हरिवंश सिंह के नाम को बसपा और सपा के महागठबंधन से उम्मीदवार बनाए जाने की खबर सोशल मीडिया में प्रायोजित कराई गई। जबकि सांसद हरिवंश सिंह से बातचीत हुई तो उन्होंने दो टूक में बताया कि वो चुनाव लड़ेंगे वो भी भाजपा से।
चूँकि उन्हें सिर्फ और सिर्फ देश की बागडोर नरेंद्र भाई मोदी के हाथों में सुरक्षित और संरक्षित दिखती है। साथ ही स्वामी विवेकानंद जी का प्रतिविंब नरेंद्र भाई में उन्हें दिखता है। उनके दोंनो के नाम भी सेम हैं। वो पाँच वर्षो तक ये बातें मंच से अपने भाषणों में जनता के समक्ष बोली है। उनकी बातचीत भाजपा के शीर्ष नेतृत्व से चल रही है। उन्हें भाजपा के शीर्ष नेतृत्व एवं प्रधानमंत्री मोदी जी पर पूरा भरोसा है। एक-दो दिन में प्रतापगढ़ से जब भाजपा उम्मीदवार के रूप में उनके नाम की घोषणा करेगी तो स्थिति अपने आप स्पष्ट हो जाएगी। विरोधियों का मुंह स्वतः बन जायेगा। बाकी कोई कुछ भी कहे और सोशल मीडिया पर अपने मन की खबर चलाए उससे कुछ नहीं होने वाला। किसी भी खबर की सच्चाई उसकी आत्मा होती है। झूठ और फरेब अधिक दिनों तक नहीं चलाया जा सकता। उनके बसपा और सपा सहित किसी भी दल में शामिल होने और उससे टिकट लेने की लेशमात्र की सच्चाई नहीं है। हाँ,सच्चाई यदि है तो पाँच वर्षों में जो सांसद के रूप में उनके द्वारा प्रतापगढ़ के चहुमुखी विकास एवं क्षेत्र वासियों की सेवा सच्चे मन से की गई उसका मूल्यांकन पार्टी के शीर्ष नेतृत्व के बीच जरूर हो रही है। उनके नाम पर आम सहमति भी बनी हुई है। एक दो दिन में पार्टी का शीर्ष नेतृत्व निर्णय ले लेगा। फिर कयासों का बाजार खत्म हो जायेगा।
सांसद कुँवर हरिवंश सिंह ने बताया कि आज भी वो भाजपा के केंद्रीय कार्यालय गए थे। पार्टी के शीर्ष नेतृत्व से वो लगातार संपर्क में बने हुए हैं। सांसद कुँवर हरिवंश सिंह ने ये भी स्वीकार किया कि भाजपा यदि उन्हें कमल के फूल सिम्बल से लड़ाती है तो वो उसके लिए भी तैयार हैं। अपने पाँच वर्ष के कार्यकाल में उनके द्वारा किये गए कार्यो से वो पूर्णतः संतुष्ट हैं। उन्हें सिर्फ इंतजार है तो भाजपा से अपनी उम्मीदवारी का ! सांसद के निजी सचिव दीपक मिश्र ने बताया कि कुछ ओछी मानसिकता के लोंगो को सांसद कुँवर हरिवंश सिंह पच नहीं पा रहे हैं। बसपा की उम्मीदवारी पर निजी सचिव ने खण्डन करते हुए साफ किया कि बसपा के लोकसभा प्रभारी अशोक त्रिपाठी हैं। बसपा किसे टिकट देगी इसका बेहतर जवाब अशोक त्रिपाठी ही दे सकते हैं। सांसद कुँवर हरिवंश सिंह ने पाँच वर्षों में वो काम किया जो प्रतापगढ़ में अभी तक नहीं हुए। पूर्व के सांसद चाहे तो अपने कार्यकाल से वर्तमान सांसद के कार्यकाल का तुलनात्मक अध्ययन कर लें और किसी टी वी शो में वो डिबेट भी कर लें। वर्तमान सांसद कुँवर हरिवंश सिंह की चुनाव की पूरी तैयारी हो चुकी है। अपने कार्यकाल में विकास कार्यो को लेकर सम्मानित मतदाताओं के समक्ष सांसद उनसे जुड़े लोग झोली फैलाकर मतों की पुनः भीख मांगेंगे। इंतजार है तो भाजपा शीर्ष नेतृत्व के द्वारा उम्मीदवार के रूप में अपने नाम की घोषणा का...!!!

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें