कुण्डा सम्पूर्ण समाधान दिवस में 197 फरियादी आये, 03 शिकायतों का मौके पर निस्तारण

6:45:00 pm 0 Comments Views

जिलाधिकारी ने अनुपस्थित 12अधिकारियों के एक दिन के वेतन पर लगायी रोक...!!! 
कुण्डा सम्पूर्ण समाधान दिवस में जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही...
जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही एवं पुलिस अधीक्षक एस आनन्द की अध्यक्षता में आज सम्पूर्ण समाधान दिवस तहसील कुण्डा में आयोजित किया गया। कुण्डा सम्पूर्ण समाधान दिवस में कुल 197 फरियादी अपनी समस्याओं के निस्तारण हेतु उपस्थित हुये जिनमें से 03 शिकायतें इस प्रकृति की पायी गयी जिनका मौके पर निस्तारण कर दिया गया। आज कुल प्राप्त 197 शिकायतों में से 57 शिकायतें राजस्व विभाग से, पुलिस विभाग से 52, विकास विभाग से 23, समाज कल्याण से 17, बेसिक शिक्षा से सम्बन्धित 03 और 45 अन्य विभागों से सम्बन्धित शिकायते सम्पूर्ण समाधान दिवस में आयी। सम्पूर्ण समाधान दिवस में शिकायतकर्ता शाहिन अन्जुम निवासी मिरगड़वा थाना मानिकपुर ने शिकायत किया कि प्रार्थिनी द्वारा क्रय की गयी भूमि पर नूरआलम व अन्य सरहंग किस्म के व्यक्ति है अदालत के स्थगन आदेश के बावजूद जबरन निर्माण कराना चाहते है जिस पर जिलाधिकारी ने थाना प्रभारी नवाबगंज को जांच कर 7 दिन में आख्या प्रस्तुत करने के लिये निर्देशित किया। शिकायतकर्ता बैजनाथ निवासी भदरी पूरेटीकाराम, ब्लाक कुण्डा ने शिकायत किया कि शासन से आये आवास को ग्राम प्रधान भदरी व कुछ जालसाज मिलकर फर्जी कागजात तैयार करके किसी महिला को रामकली बनाकर आवास की धनराशि निकलवा लिया जिसके कारण मेरे परिवार को आज तक आवास नही मिला जिस पर जिलाधिकारी ने थाना प्रभारी कुण्डा को जांच कर तत्काल दोषी के विरूद्ध कार्यवाही करने के लिये निर्देशित किया। इसी प्रकार शिकायतकर्ता सुन्दर लाल राजी निवासी ग्राम-बक्शा का बाग, थाना नवाबगंज सहित अन्य शिकायतकर्ताओं ने अपनी-अपनी शिकायतों जिलाधिकारी के समक्ष प्रस्तुत की। सम्पूर्ण समाधान दिवस में आयी हुई शिकायती प्रार्थना पत्रो को गम्भीरता से लेते हुये जिलाधिकारी ने विभागीय अधिकारियों को इस दिशा निर्देश के साथ उनको हस्तगत की गयी कि शिकायतों का निस्तारण एक सप्ताह के अन्दर यथाशीघ्र किया जाये इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दास्त नही की जायेगी। 
आज के सम्पूर्ण समाधान दिवस में 12 अधिकारी अनुपस्थित पाये गये जिनमें अपर पुलिस अधीक्षक (पश्चिमी), जिला विकास अधिकारी, परियोजना निदेशक डी0आर0डी0ए0, उप निदेशक कृषि, जिला कृषि अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, जिला गन्ना अधिकारी, सहायक अभियन्ता लघु सिंचाई, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला दिव्यांगजन कल्याण अधिकारी, महाप्रबन्धक जिला उद्योग केन्द्र एवं एल0डी0एम0 के नाम सम्मिलित है। जिलाधिकारी ने इन सभी अनुपस्थित अधिकारियों के 01 दिन के वेतन पर रोक लगा दी है। अन्त में उन्होने आई0जी0आर0एस0 पोर्टल पर मुख्यमंत्री सन्दर्भ में कुल 81 शिकायतें विभिन्न विभागों से लम्बित पायी गयी जिस पर जिलाधिकारी ने सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि जल्द से जल्द शिकायतों का निस्तारण करायें। सम्पूर्ण समाधान दिवस में तहसील स्तर के कुछ विभागों के लम्बित प्रकरण पाये गये जिसका जिलाधिकारी ने गुणवत्तापूर्ण एवं समयबद्ध ढंग से निस्तारण करने के लिये निर्देशित किया। जिलाधिकारी ने सम्पूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर यह भी कहा कि 2616 पोलिंग बूथ बनाये गये जिसमें पानी, शौचालय, विद्युत, रैम्प, फर्नीचर सहित आदि की व्यवस्थायें समय से पहले पूर्ण करा ली जाये जिससे आगामी लोकसभा सामान्य निर्वाचन को सकुशल, निष्पक्ष एवं शान्तिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराया जा सके। उन्होने यह भी कहा कि जितने भी पोलिंग बूथ बनाये गये है सभी पोलिंग बूथों पर शत् प्रतिशत मतदान कराना सुनिश्चित करें। उन्होने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि जनपद में जितने शस्त्रधारकों को लाइसेन्स निर्गत हुये है उनका एक अभियान चलाकर सत्यापन करा लिया जाये। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक एस आनन्द ने क्षेत्राधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि अपने-अपने क्षेत्रों के अन्तर्गत संवेदनशील बूथों को चिन्हित करके भ्रमण करते रहे जिससे किसी भी प्रकार की अव्यवस्था न फैलने पाये और निर्वाचन को सकुशल सम्पन्न कराया जा सके। आज के सम्पूर्ण समाधान दिवस में अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) शत्रुधन वैश्य, मुख्य चिकित्साधिकारी अरविन्द कुमार श्रीवास्तव, उपजिलाधिकारी कुण्डा विजय पाल सिंह सहित जनपद स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

rameshrajdar

एक खोजी पत्रकार की सत्य खबरें जिन्हे पूरा पढ़े बिना आप रह ही नहीं सकते हैं ,इस खबर को पढ़ने के लिए............| Google || Facebook

0 टिप्पणियाँ: