Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

शनिवार, 23 फ़रवरी 2019

तेज धमाके से उड़ा मकान,10 लोगों की मौके पर ही हुई मौत

यूपी के भदोही के रोहटा में हुआ पटाखा व्यवसाई के घर में रहस्यमय तरीके से विस्फोट,क्षेत्र में फैली दहशत ...!!! 
बढ़ सकती है,मृतकों की संख्या...!!! 
धमाका इतना जबरदस्त था कि उड़े मकान का मलबा वाराणसी-मिर्जापुर राज्यमार्ग पर जा फैला...!!! 
मुस्लिम का था,मकान...!!! 
उत्तर प्रदेश के भदोही जिले के चौरी थाना अन्तर्गत रोटहां में एक बड़े मकान में तेज धमाका हो गया। धमाका इतना जबरदस्त था कि मकान पूरी तरह धाराशायी हो गया। जिसका मलबा भदोही-वाराणसी मार्ग पर पूरी तरह जा बिखरा। मौके पर जिला प्रशासन पहुंच गया है। इस हादसे में कई लोगों के मौत होने की आशंका है। मलबे के साथ मानव अंग भी सड़क पर बिखरे हैं। भारी संख्या में फोर्स मौके पर पहुंच गई है। शुरूआती दौर में घटना का कारण अभी पता नहीं चल सका है। नागरिकों में विस्फोटक से मकान उड़ने की चर्चा गर्म है। उक्त बड़े मकान का मालिक एक मुस्लिम बताया जा रहा है। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक मौके पर पहुंची पुलिस ने 4 शव को निकालकर अन्यत्र कहीं भेजा है। इस हादसे में कितनी मौत हुई है ? अभी इसकी पुष्टि नहीं हो पा रही है। इस घटना से स्थानीय निवासियों में जहां डर फैल गया। वहीं जिला प्रशासन सभी दृष्टिकोण से इस घटना की छानबीन में जुट गई है।
भदोही के चौरी क्षेत्र के रोटहां गांव में शनिवार की सुबह करीब 11 बजे के करीब जब एक पटाखा व्यवसाई के घर में विस्फोट हुआ तो लोग दहशत में आ गए। विस्फोट इतना तेज था कि पूरा मकान जमींदोज हो गया। जानकारी के मुताबिक भदोही-बाबतपुर मार्ग पर चौरी क्षेत्र के रोहटा गांव निवासी इरफान मंसूरी पटाखों को बनाने और बेचने का काम करता था। उसने अपने मकान में ही पटाखों की दुकान खोल रखी थी। मकान के पिछले हिस्से में कालीन बुनाई का कारखाना भी चलता था। विस्फोट इतना भीषण था कि शवों और मकान में मौजूद सामान के चिथड़े 400 मीटर दूर तक उड़कर जा गिरे। घटना के बाद आईजी पीयूष श्रीवास्तव ने 10 लोगों की मौत की पुष्टि करते हुए बताया कि राहत बचाव कार्य जारी है। मलवे से अभी तक 10 लोगों के शव निकाले जा चुके हैं और अभी और शवों के होने का आशंका है। उन्होंने कहा कि मामले की जांच की जा रही है। गांव में रहने वाले लोंगो ने बताया कि आस-पास के कई मकानों के शीशे चिटक गए हैं। बताया जाता है कि घटना के वक्त कालीन कारखाने में कुछ बुनकर बुनाई का काम कर रहे थे,जिनमें से कई का पता अब तक नहीं चल पाया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें