पेश्तर विंग कमाण्डर अभिनन्दन को भारत भेजे पाकिस्तान-हिंदुस्तान

9:45:00 am 0 Comments Views

विदेश मंत्री पहुँची हैं,चीन दौरे पर...!!!
भारत सरकार ने इस मुद्दे को लेकर तेज किये कूटनीतिक प्रयास...!!!
रक्षा विशेषज्ञ कादयान ने बताया "जिनेवा कन्वेंशन के तहत होता है,युद्धबन्दी के साथ व्यवहार"...!!!
भारतीय सीमा में घुस आए पाकिस्तानी विमान के खिलाफ कार्रवाई के दौरान भारतीय वायुसेना के एक मिग 21 को नुकसान पहुंचा है। भारत सरकार ने पुष्टि की है कि पाकिस्तान ने वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्थमान को बंदी बना लिया है। सरकार ने पाकिस्तान से उन्हें जल्द से जल्द भारत भेजने की मांग की है। ऐसे में सवाल उठ रहा है कि क्या उन्हें वापस भारत लाया जा सकेगा ? क्या वह पाकिस्तान के चंगुल से छूट सकेंगे ? जवाब है- हां ! पाकिस्तान हो या कोई और देश... उसकी जिम्मेदारी होती है कि वह युद्धबंदी का पूरा ख्याल रखे।जल, थल हो या वायुसेना के किसी अधिकारी को अगर किसी देश में बंदी लिया जाता है तो उसे वापस लाने के लिए क्या कदम उठाने पड़ते हैं ? 
इस बारे में रक्षा मामलों के जानकार राज कादयान बताते हैं,“अगर हमारा पायलट दुश्मन देश में बंदी बना लिया जाता है। जैसे कारगिल ऑपरेशन के दौरान फ्लाइट लेफ्टिनेंट नचिकेता को बंदी बना लिया गया था तो उसके लिए हमें अंतरराष्ट्रीय समुदाय के पास नहीं जाना पड़ेगा। जैसे नचिकेता के मामले में भी हुआ था।पाकिस्तान ने खुद ही मान लिया था कि एक भारतीय पायलट उनके कब्जे में हैं। उन्होंने बताया कि हमें दिल्ली स्थित पाक उच्चायोग के अधिकारियों को बुलाना होगा। विदेश मंत्रालय के स्तर पर दोनों देशों के मंत्री और अधिकारी बात करेंगे।इस बातचीत में पायलट को वापस लाने पर सहमति बन जाएगी।कादयान ने बताया कि एक बार पाक के मान लेने के बाद वो न तो अब उसे कोई नुकसान पहुंचाएगा और न ही अब इस बात से इनकार कर सकता है कि पायलट उसके पास नहीं है। उन्होंने कहा,"हालांकि ऐसे हालात नहीं हैं लेकिन जरूरत पड़ी तो विषम परिस्थितियों में रेडक्रॉस मध्यस्ता कर सकती है। दूसरा ये कि वो हमारा पायलट है कोई आतंकवादी नहीं है। युद्धबंदी की श्रेणी में उसे रखा जाएगा और जिनेवा कंवेंशन के तहत उसके साथ व्यवहार किया जाएगा। भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज चीन के दौरे पर गयी है तो इस मुद्दे को लेकर मोदी सरकार अंदर खाने से सभी स्तरों पर कूटनीतिक कोशिशों के जरिये पाकिस्तान पर दबाव बनाकर सकुशल विंग कमाण्डर अभिनन्दन वर्धमान की वापसी कराने में लग गयी है।

rameshrajdar

एक खोजी पत्रकार की सत्य खबरें जिन्हे पूरा पढ़े बिना आप रह ही नहीं सकते हैं ,इस खबर को पढ़ने के लिए............| Google || Facebook

0 टिप्पणियाँ: