दूर तक बिखरे थे शहीद जवानों के अंग,देश की सुरक्षा में तैनात शेरों के लहू से लाल हुई सड़क

8:47:00 pm 0 Comments Views

ब्लॉस्ट के बाद बस से निकलते हुए कई जवानों को आतंकियो ने उन पर गोलियां बरसा किया था,शहीद...!!!
शहीद जवानों के परिजनों के साथ है पूरा देश-पीएम मोदी
देश के लिए मर मिटने वाले शहीद जवानों के एक-एक खून के कतरे का लिया जायेगा हिसाब-वीके सिंह
गृहमंत्री राजनाथ सिंह व NSAअजित डोभाल पीएम मोदी को हर क्षण करते रहेंगे,अपडेट...!!! 
इस हमले के बाद सारे देश मे दुखभरा आक्रोश फैल गया है।तो वही मोदी सरकार के ऊपर एक बार फिर उरी हमले के बाद देश की आक्रोशित जनता की तरफ से  आतंकियो के पनाहगार पाकिस्तान को कठोर सबक सिखाने के दबाव की पुनरावृत्ति उत्पन्न होती जा रही है। विदित हो कि कई जवानों ने तो मौके ही माँ भारती की भूमि की रक्षा में अपने प्राणों का बलिदान दे दिया। वहीं घायल जवानों को अस्पताल ले जाया गया है। उरी के बाद 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर में हुआ ये दूसरा सबसे बड़ा हमला बताया जा रहा है। इस आतंकी हमले में देश की सुरक्षा में तैनात कीरब 42 जवान शहीद हो गएहो गए है तो वहीं 50 से अधिक जवान घायल बताए जा रहे हैं।
आतंकियों ने आत्मघाती धमाके के जरिए सुरक्षाबलों को निशाना बनाया है। सीआरपीएफ के अनुसार, दर्जनभर गाड़ियों में 2500 से ज्यादा जवानों का काफिला पुलवामा की तरफ जा रहा था। इस बीच आतंकियों ने सुरक्षाबलों को निशाना बनाया।आतंकवादियों ने फायरिंग कर उन जवानों को शहीद कर दिया जो जवान ब्लॉस्ट के बाद बस में से किसी भी प्रकार बाहर निकल रहे थे। कई गाड़ियों पर गोलियों के निशान भी बने हैं। हमले में एक मेजर समेत 42 जवान शहीद हो गए हैं। घायल जवानों का इलाज किया जा रहा है।बताया जा रहा है कि जब आत्मघाती हमलावर आतंकवादियों ने विस्फोटकों से भरे अपने वाहनों को सीआरएफ के वाहनों से लड़ा कर भयंकर ब्लॉस्ट के जरिए कई वाहनों को उड़ाया तो उनमें से तमाम घायल जवानों पर आत्मघाती हमलावरों के अन्य आतंकी साथियो ने पहले से ही कुछ जगहों पर छुपकर पोजिशन लेकर हथियारों से उन जवानों पर गोलियों की बौछार कर दी,जिसमें कइयों जवान शहीद हो गए। 
जानकारी के मुताबिक, खुफिया एजेंसियों ने एक बड़ा अलर्ट जारी करते हुए कहा था कि आतंकी जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों के डिप्लॉयमेन्ट और उनके आने जाने के रास्ते पर IED से ह’मला कर सकते हैं। इसलिए सभी सुरक्षा बल सावधान रहें। इसके साथ ही एरिया को बिना सेंसिटाइज किए उस एरिया में ड्यूटी पर न जाएं। लेकिन इसके बावजूद ये चूक हुई और आतंकी बड़ा हमला करने में कामयाब हो गए। उधर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट के जरिये शहीद जवानों को नमन करते हुए इस कायराना हमले की निंदा करते हुए कहा कि सारा देश शहीदों के परिजनों के साथ खड़ा है। पूर्व सेनाध्यक्ष व केंद्रीय राज्यमंत्री वी.के.सिंह ने कहा कि शहीदों के खून के एक एक कतरे का हिसाब लिया जायेगा। उधर गृह मंत्री राजनाथ सिंह व NSA अजीत डोभाल प्रधानमंत्री मोदी को हरदम रिपोर्ट डें रहे है तो वहीं शुक्रवार को गृहमंत्री पुलवामा जा रहे है।

rameshrajdar

एक खोजी पत्रकार की सत्य खबरें जिन्हे पूरा पढ़े बिना आप रह ही नहीं सकते हैं ,इस खबर को पढ़ने के लिए............| Google || Facebook

0 टिप्पणियाँ: