पाकिस्तान की बनाई कहानी को नहीं करता स्वीकार-सऊदी अरब

10:33:00 am 0 Comments Views

दो दिवसीय यात्रा पर आज भारत आएंगे सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान...!!! 
दोनों देशों के बीच होंगे 5महत्वपूर्ण MOUपर दस्तख़त...!!! 
भारत पाकिस्तान के बीच तनाव कम कराने की कोशिश करेगा कहा सऊदी अरब ने...!!! 
सऊदी अरब के शहजादे मोहम्मद बिन सलमान मंगलवार को दो दिवसीय भारत यात्रा के तहत नई दिल्ली पहुंचेगे। शहजादे के दिल्ली पहुंचने से पहले सऊदी अरब ने पुलवामा हमले की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि बीते कुछ सालों में आतंकवाद और जम्मू-कश्मीर को लेकर सऊदी के नजरिए में काफी बदलाव आया है। वह पाकिस्तान की बनाई कहानी को स्वीकार नहीं करता है। शहजादे के इस यात्रा के दौरान भारत, पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद का मुद्दा उठाएगा। साथ ही दोनों देश रक्षा संबंधों में बढ़ोतरी पर भी चर्चा करेंगे जिसमें संयुक्त नौसेना अभ्यास शामिल है। सूत्रों की मानें तो सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान की यात्रा के दौरान भारत और सऊदी अरब के बीच 5 एमओयू पर हस्ताक्षर किए जाएंगे। आर्थिक मामलों के सचिव टीएस त्रिमूर्ति ने बताया, 'सऊदी अरब के शहजादे मोहम्मद बिन सलमान 19 फरवरी को भारत पहुंचेंगे। जब से प्रधानमंत्री ने 2016 में सऊदी अरब का दौरा किया है तब से हमारे संबंध और प्रगाढ़ हुए हैं। तब से संबंधों में मजबूती आई है। इस यात्रा के दौरान कई तरह के रणनीतिक मुद्दों पर बात होगी।
इससे पहले शहजादे मोहम्मद बिन सलमान ने दक्षिण एशिया के दौरे की शुरुआत रविवार को पाकिस्तान दौरे के साथ की थी और सोमवार को वो सऊदी अरब लौट गए थे। भारत ने उनके पाकिस्तान से यहां के दौरे पर आने को लेकर आपत्ति जताई थी। शहजादे के दौरे से पहले सऊदी अरब के विदेश मंत्री अदेल अल जुबैर ने सोमवार को कहा कि पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले के मद्देनजर भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव को रियाद ‘कम’ कराने का प्रयास करेगा। विदेश मंत्रालय में आर्थिक मामलों के सचिव टी एस त्रिमूर्ति ने बताया कि सऊदी नेता के दौरे में दोनों पक्षों के बीच निवेश, पर्यटन, आवास और सूचना तथा प्रौद्योगिकी के क्षेत्रों में पांच समझौतों पर दस्तखत होने की उम्मीद है। उन्होंने कहा, ‘हमें विश्वास है कि इस दौरे से भारत-सऊदी द्विपक्षीय संबंधों में नये अध्याय की शुरुआत होगी।’ सीमा पार आतंकवाद का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘सऊदी अरब ने पुलवामा में 14 फरवरी को सुरक्षा बलों पर आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा की। हम सुरक्षा और आतंकवाद निरोधक मामलों में उनके सहयोग की सराहना करते हैं।मोहम्मद बिन सलमान मंगलवार को दो दिवसीय भारत यात्रा के तहत नई दिल्ली पहुंचेगे। शहजादे के दिल्ली पहुंचने से पहले सऊदी अरब ने पुलवामा हमले की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि बीते कुछ सालों में आतंकवाद और जम्मू-कश्मीर को लेकर सऊदी के नजरिए में काफी बदलाव आया है। वह पाकिस्तान की बनाई कहानी को स्वीकार नहीं करता है। शहजादे के इस यात्रा के दौरान भारत, पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद का मुद्दा उठाएगा। साथ ही दोनों देश रक्षा संबंधों में बढ़ोतरी पर भी चर्चा करेंगे जिसमें संयुक्त नौसेना अभ्यास शामिल है।
सूत्रों की मानें तो सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान की यात्रा के दौरान भारत और सऊदी अरब के बीच 5 एमओयू पर हस्ताक्षर किए जाएंगे। आर्थिक मामलों के सचिव टीएस त्रिमूर्ति ने बताया, 'सऊदी अरब के शहजादे मोहम्मद बिन सलमान 19 फरवरी को भारत पहुंचेंगे। जब से प्रधानमंत्री ने 2016 में सऊदी अरब का दौरा किया है तब से हमारे संबंध और प्रगाढ़ हुए हैं। तब से संबंधों में मजबूती आई है। इस यात्रा के दौरान कई तरह के रणनीतिक मुद्दों पर बात होगी।' इससे पहले शहजादे मोहम्मद बिन सलमान ने दक्षिण एशिया के दौरे की शुरुआत रविवार को पाकिस्तान दौरे के साथ की थी और सोमवार को वो सऊदी अरब लौट गए थे। भारत ने उनके पाकिस्तान से यहां के दौरे पर आने को लेकर आपत्ति जताई थी। शहजादे के दौरे से पहले सऊदी अरब के विदेश मंत्री अदेल अल जुबैर ने सोमवार को कहा कि पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले के मद्देनजर भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव को रियाद ‘कम’ कराने का प्रयास करेगा। विदेश मंत्रालय में आर्थिक मामलों के सचिव टी एस त्रिमूर्ति ने बताया कि सऊदी नेता के दौरे में दोनों पक्षों के बीच निवेश, पर्यटन, आवास और सूचना तथा प्रौद्योगिकी के क्षेत्रों में पांच समझौतों पर दस्तखत होने की उम्मीद है। उन्होंने कहा, ‘हमें विश्वास है कि इस दौरे से भारत-सऊदी द्विपक्षीय संबंधों में नये अध्याय की शुरुआत होगी।’ सीमा पार आतंकवाद का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘सऊदी अरब ने पुलवामा में 14 फरवरी को सुरक्षा बलों पर आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा की। हम सुरक्षा और आतंकवाद निरोधक मामलों में उनके सहयोग की सराहना करते हैं।

rameshrajdar

एक खोजी पत्रकार की सत्य खबरें जिन्हे पूरा पढ़े बिना आप रह ही नहीं सकते हैं ,इस खबर को पढ़ने के लिए............| Google || Facebook

0 टिप्पणियाँ: