हम पाक कलाकारों को देते,नाम,दाम,सम्मान व्व हमे देते ज़ख्म-श्रीनिवासन

3:12:00 pm 0 Comments Views

बॉलीवुड में काम कर चुके इन पाकिस्तानी कलाकारो ने भी नही की हमले की निंदा...!!! 
जावेद,शबाना ने करांची कार्यक्रम को रद्द कर कहा वो मेरे शहर में आके करते हैं,गलत काम...!!! 
बॉलीवुड में फ़वाद खान, माहिरा खान, सबा कमर, राहत फतेह अली ख़ान, आतिफ़ असलम, समेत तमाम पाकिस्तानी कलाकारों, गायकों ने किया काम और दोनों हाथों से बटोरी दौलत, शोहरत लेकिन हमले पर सिले रहते है,जुबाँ...!!! 
पुलवामा। 14 फरवरी को वेलेंटाइन-डे के दिन पुलवामा में हुए दर्दनाक हादसे जिसमें आतंकवादियों के हमले से CRPF के 44 जवान शहीद हो गए, इसकी वजह से पूरा देश आक्रोशित है। और इस हमले से बॉलीवुड इंडस्ट्री भी सदमे में आ गयी और एक तरफ यह पाकिस्तानी कलाकार जो हमारे यहाँ काम करने आते है और करोड़ो रुपये कमाकर अपना बैंक बैलेंस भारी करते है। जिन्हें हम इतने प्यार से काम देते है लेकिन उनके देश के द्वारा कोई हमारे सैनिकों पर हमला कर देता है तो यह सब अपनी जुबान बन्द कर लेते है। हो सकता है कि यह सियासी मजबूर हो लेकिन हम ही इन्हें मोहब्बत दे और वो ऐसी हरकतें करें,यह बहुत गलत है। 
इन सबको आपने फिल्मों में और गाना गाते हुए जरूर देखा होगा फवाद खान, आतिफ असलम, राहत फतेह अली भी शामिल है।यह खूबसूरत अभिनेत्रियां सबा कमर और माहिर खान भी अपना जलवा दिखा चुकी है क्या इनका फर्ज नही बनता की इसकी निंदा करें। इसके अलावा हमारे अपन बॉलीवुड में तमाम ऐसे टॉप स्टार भी है जिन्होंने अभी तक शहीदों के प्रति सम्मान के दो शब्द लिखना जरूरी नही समझा है,जबकि मुम्बई बम्ब विस्फोट में सैकड़ो की जान लेने वाले आतंकी व साजिशकर्ता याक़ूब मेनन की फाँसी रुकवाने के लिए ट्वीट दर ट्वीट कर मरे जा रहे थे। कम से कम मानवता के लिए ही कुछ लिख देते तो इनके फैंस को अच्छा लगता। वरिष्ठ पत्रकार रामचंद्र श्रीनिवासन कहते है कि हम लोग उन्हें इधर सम्मान देते और वो जख्म देते है। हाल ही में जावेद अख्तर और शबाना आज़मी ने कराची में कला के एक कार्यक्रम को रद्द कर दिया है। जहां पाकिस्तान के एक अधिकारी ने इसे शर्मनाक बताते हुए बोला कि इन सब चीज़ों हमारा क्या दोष है। जावेद ने जवाब दिया और कह डाला की दुखी होने से अच्छा है कि अपनी सरकार से पूछो की वो मसूद अजहर और कसाब जैसे को पनाह देते और वो मेरे शहर में ऐसा गलत काम करने के लिए भेजते है।

rameshrajdar

एक खोजी पत्रकार की सत्य खबरें जिन्हे पूरा पढ़े बिना आप रह ही नहीं सकते हैं ,इस खबर को पढ़ने के लिए............| Google || Facebook

0 टिप्पणियाँ: