Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

सोमवार, 14 जनवरी 2019

जरुरतमंदों में खिचड़ी भोज के साथ-साथ लाई और लड्डू एवं कपड़ों का वितरण कर मनाया खंडेलवाल महिला सेवा समिति की पदाधिकारियों ने मकर संक्राति "लोहड़ी" का त्यौहार।

त्योहारों पर अपने साथ गरीब परिवारों का भी त्योहार मनाएं तभी आयेगा जीवन में आनंद-रेखा अमेरिया अध्यक्ष,खंडेलवाल महिला संघ प्रतापगढ़ (अवध)।
गरीबों में खंडेलवाल महिला सेवा समिति द्वारा खिचड़ी भोज का किया गया वितरण...
प्रतापगढ़। आज दोपहर मकर संक्राति "लोहड़ी" के पावन पर्व पर माँ बेल्हा देवी परिसर में गरीबों के बीच खंडेलवाल महिला संघ प्रतापगढ़ (अवध) से सम्बद्ध खंडेलवाल महिला सेवा समिति द्वारा खिचड़ी भोज सहित मीठा चावल यानि भात वितरण किया गया। खिचड़ी भोज के साथ-साथ लाई और लड्डू का भी वितरण किया गया। ठंड को देखते हुए खंडेलवाल महिला सेवा समिति की पदाधिकारियों ने गरीबों को 45साड़ियाँ, 25पैंट व शर्ट 15 ऊलेन शाल, 150 मोजे, 5स्वेटर एवं 5 बेडसीट का विरतण किया गया । आयोजन दोपहर 12 बजे से प्रारम्भ किया गया। खंडेलवाल महिला सेवा समिति प्रतापगढ़ की ये पहल स्वागत करने योग्य रही,क्योंकि मकर संक्राति के शुभ अवसर पर ऐसे भी परिवार होते हैं,जो खिचड़ी भी नहीं बना सकते और अपना त्यौहार भी नहीं मना सकते। ऐसे परिवारों के लिए खंडेलवाल महिला सेवा समिति की इस पहल की जितनी तारीफ की जाये वो कम होगी। 
माँ बेल्हा देवी धाम में तैयार खिचड़ी भोज...
भूखे लोंगो को भोजन कराना सबसे पुण्य का कार्य है। ये कार्य यदि उसके त्योहार के शुभदिन कोई करें तो वो उन गरीबों की निगाहों में किसी मसीहा से कम नहीं होता। चूँकि अपने लिए तो सभी करते हैं,जो दूसरे के लिए जिए और दूसरे के लिए काम आए वो वास्तव में आज के युग का पूज्यनीय होगा। ईश्वर भी ऐसे कृत्यों से खुश होते हैं और उसकी मुरादें जरूर पूरी करते हैं। इस धरती पर मनुष्य को सर्वश्रेठ माना गया है। इसलिए सभी जीवों की परिवरिस करने में मनुष्य सामर्थ्यवान होता है,बशर्ते उसके मन में दूसरे के सहयोग करने की भावना हो ! इस मौके पर खंडेलवाल महिला संघ प्रतापगढ़ (अवध) की अध्यक्षा-श्रीमती रेखा आमेरिया, कार्यवाहक मंत्री-श्रीमती ज्योत्सना साँवरिया, श्रीमती शशि बाजरग्यान व कोषाध्यक्ष-श्रीमती प्रेम जसोरिया सहित खंडेलवाल महिला सेवा समिति प्रतापगढ़ की सदस्य- श्रीमती सुनीता आकड़, श्रीमती प्रिया जंघीनिया, श्रीमती प्रियंका बाजरग्यान, श्रीमती नंदनी जसोरिया, श्रीमती कविता सांवरिया, श्रीमती सुनीता झालानी, श्रीमती अल्का बड़ाया, डॉ.सीमा बाजरग्यान, श्रीमती आरती बाजरग्यान, श्रीमती मोनिका जसोरिया, श्रीमती संतोष जसोरिया, श्रीमती अर्चना जसोरिया, श्रीमती बिंदिया बाजरग्यान, श्रीमती बबीता बाजरग्यान, श्रीमती कंचन खारवाल, श्रीमती रजनी आकाड़ प्रमुख रूप से सहभागी रही।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें