Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

गुरुवार, 6 दिसंबर 2018

काम नहीं आयी #Mee_Too की साज़िश

अमेरिका से बुलाई गई थी,फिल्मी वेश्या...बम्बईय्याफिल्मी भांड़ पर #Mee_Too आरोप का राग गाया और ठुमका लगाया...!!!
✍सतीश चन्द्र मिश्र...
लुटियनिया दिल्ली में बैठे मीडियाई हारमोनियम-तबले वाले और हिजड़े झूम-झूमकर #Mee_Too धुन पर नाचने गाने लगे। तभी लुटियनिया नस्ल की लाल लगाम वाली बूढ़ी घोड़ी भी अचानक उन हिजड़ों की भीड़ में घुसकर जोर से #अकबर_अकबर कहकर हिनहिनाने लगी। अपने खुर रगड़ने लगी। उसके साथ में कुछ और घोड़ियों ने #अकबर_अकबर हिनहिना शुरू कर दिया। और अकबर के इस्तीफे के साथ वह लुटियनिया ड्रामा खत्म हो गया। इसी के साथ #Mee_Too के गम मरी जा रही फिल्मी वेश्या भी गधे के सिर से सींग की तरह गायब हो गयी। बम्बई में फिल्मी भांड़ भी मौज ले रहा है। लाल लगाम वाली बूढ़ी घोड़ियां भी इटलीवाली की कृपा से मिले बढ़िया दाना-पानी और अस्तबल में आराम फरमा रहीं हैं। मीडियाई ठेकों से भी अब #Mee_Too ब्रांड की दारू बिकना बंद हो चुकी है। दअरसल यूएई समेत खाड़ी देशों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की कूटनीति के घोड़े पर अकबर बहुत शानदार सवारी कर रहा था। #क्रिश्चियन_मिशेल को भारत लाने के लिए यूएई में उसका बोरिया बिस्तर बंधवाने में अकबर की उस सवारी की भी बहुत या यूं कहूं कि सबसे महत्वपूर्ण भूमिका रही है। इटलीवाली को लगा था कि अकबर की विदाई से मेरे दल्ले की भारत वापसी की संभावनाएं खत्म हो जाएंगी। लेकिन इटलीवाली भूल गयी कि मोदी के हाथ में जितने पत्ते होते हैं,उतने ही पत्ते मोदी की आस्तीन में भी रहते हैं। #क्रिश्चियन_मिशेल भारत आ चुका है। इटलीवाली समेत पूरा #Mee_Too गैंग बहुत उदास हताश निराश है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें