Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

गुरुवार, 29 नवंबर 2018

मध्य प्रदेश में शाम 6 बजे तक हुआ था 74.61% मतदान

11दिसम्बर,2018को होगी मतगणना...!!!
मध्य प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी वीएल कांताराव...
भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा की 230 सीटों के लिए मतदान संपन्न हो गया है। चुनाव के दौरान बंपर वोटिंग हुई है। राज्य निर्वाचन आयोग ने मतदान का समय पूरा होने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए वोटिंग के आंकड़ों की जानकारी दी। निर्वाचन आयोग का कहना है कि शाम 6 बजे तक राज्य में 74.61 प्रतिशत मतदान हो चुका था। आयोग का कहना है कि यह आंकड़ा अभी और बढ़ने की संभावना है क्योंकि देर शाम तक मतदाता कतार में अपनी बारी का इंतजार कर रहे थे। चुनाव आयोग ने बताया कि राज्य में शांतिपूर्ण तरीके से मतदान की प्रक्रिया संपन्न हो गई। प्रेस कॉन्फ्रेस के दौरान मध्य प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी वीएल कांताराव ने बताया कि आयोग को मतदान के दौरान गड़बड़ी की 386 शिकायतें मिली थीं और सभी का निस्तारण किया गया। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि ईवीएम से जुड़ी शिकायतों को लेकर 883 बैलट यूनिट और 881 कंट्रोल यूनिटों को बदला गया। यह कुल मशीनों का 1.36 प्रतिशत है। वीवीपैट मशीनें ज्यादा खराब हुई हैं। उनकी संख्या 2126 थी। यह कुल मशीनों का करीब 3.25 प्रतिशत था जो कि छत्तीसगढ़ की तुलना में करीब सवा प्रतिशत ज्यादा है। राज्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि वोटिंग के दौरान किसी भी हिस्से से बूथ कैप्चरिंग की घटना नहीं सामने आई है। गौरतलब है कि सुबह से ही कई जगहों पर ईवीएम और वीवीपीएटी मशीनों में खराबी के चलते मतदान में बाधा पहुंची। सतना जिले में 23 जगहों पर ईवीएम में गड़बड़ी के मामले सामने आए। कई वोटर वापस भी लौट गए। राजधानी भोपाल के बूथ में तकनीकी समस्या के चलते 1 बजे के बाद मतदान शुरू हो सका। कुछ जिलों में 75 से 80 प्रतिशत के बीच वोट डाले गए हैं। बालाघाट की परसबाड़ा विधानसभा क्षेत्र में 80 प्रतिशत से भी ज्यादा मतदान हुआ है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी वीएल कांताराव के मुताबिक मतदान का प्रतिशत अभी और बढ़ सकता है। कांताराव का कहना है कि पूरे प्रदेश में कहीं पुनर्मतदान नहीं कराया जाएगा। उन्होंने माना कि मशीनों में गड़बड़ी की शिकायतें मिलीं हैं। लेकिन यह औसत निर्धारित औसत से काफी कम है। वीवीपैट मशीनें ज्यादा खराब हुई हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें