Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

सोमवार, 17 सितंबर 2018

शिवपाल की पार्टी के झंडे में मुलायम की फोटो

लखनऊ। शिवपाल सिंह यादव के सेकुलर मोर्चा का झंडा विश्वकर्मा पूजा के शुभ अवसर पर लॉन्च हो गया। मोर्चा गठन के बाद से बगावती तेवर में नजर आ रहे शिवपाल सिंह यादव ने ट्विटर हैंडल में अपना परिचय बदलने के साथ ही भतीजे समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को अनफॉलो कर दिया था। इतना ही नहीं अपनी गाड़ी तक से समाजवादी पार्टी का झंडा तक निकाल कर फेंक दिया था। सोमवार को विश्वकर्मा पूजा के शुभ अवसर पर उन्होंने अपने मोर्चा का झंडा लॉच कर सबको एक बार फिर चौंका दिया। समाजवादी सेकुलर मोर्चा बनाने के बाद से ही मुलायम सिंह यादव के हक और सम्मान की बात कर रहे शिवपाल ने नए झंडे में नेताजी को भी जगह दी है। लाल, पीले और हरे रंग के इस झंडे में अब साइकिल की जगह नहीं है। इसमें एक तरफ शिवपाल की तो दूसरी तरफ बड़े भाई मुलायम यादव की तस्वीर है। सोमवार को लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे सैफई के लिए निकले शिवपाल और उनके काफिले की सभी 10 गाड़ियों में ये झंडे देखे गए। सैफई के एथलेटिक्स स्टेडियम में पहली बार अपनी पार्टी का बड़ा कार्यक्रम किया। इसके लिए उन्होंने किसी प्रचार का भी सहारा नहीं लिया। विश्वकर्मा जयंती पर आयोजित हुए इस कार्यक्रम में हजारों की संख्या में समाजवादी सर्कुलर पार्टी के कार्यकर्ता रहे मौजूद रहे। लोगों ने बार-बार नेताजी और उनके नारे लगाए। 29 अगस्त को सपा संरक्षक शिवपाल सिंह यादव ने समाजवादी सेकुलर मोर्चा का गठन किया था। हालांकि, समाजवादी पार्टी में रहने के बावजूद उन्होंने पांच सितंबर को अपनी गाड़ी से पार्टी का झंडा हटवा दिया था। इसके बाद से ही सेकुलर मोर्चा के नए झंडे को लेकर तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें