Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

बुधवार, 9 मई 2018

प्रधानमन्त्री आवास योजना में गड़बड़झाला

ग्राम्य विकास मंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉ महेंद्र सिंह के गृह जनपद प्रतापगढ़ एवं उनकी ब्लाक बेलखरनाथधाम में प्रधानमन्त्री आवास योजना में ग्राम प्रधान जगदीशगढ़ पर पात्रता सूची में लाभार्थी के नामों में अनियमितता करने और पात्र लाभार्थियों से धन उगाही करने का है,गंभीर आरोप...!!!
लाभार्थियों की मात्रता सूची में अनियमितता और चयनित किये गए पात्रों से धन उगाही की हुई शिकायत...
बेलखरनाथ धाम की ग्रामसभा जगदीशगढ़ के ग्राम प्रधान पर प्रधानमन्त्री आवास योजना में लाभार्थियों की मात्रता सूची में अनियमितता और चयनित किये गए पात्रों से धन उगाही करने की शिकायत मुख्यमंत्री के जनसुवाई पोर्टल के जरिये (ऑनलाइन शिकायत) ग्राम्य विकास विभाग के प्रमुख सचिव से की है l ग्राम प्रधान के ऊपर ग्राम सभा जगदीशगढ़ के ही दो चयनित लाभार्थी ने प्रधानमन्त्री आवास योजना में धन उगाही की शिकायत की है l दो शिकायत धन वसूली की हुई है और दो शिकायत लाभार्थियों की सूची में चयन में अनियमितता को लेकर हुई है l विमला देवी,कलावती,महेश कुमार एवं रंजना देवी जो ग्रामसभा जगदीशगढ़ की मूल निवासी हैं l महेश कुमार दिब्यांग है तो रंजना देवी विधवा महिला है और बहुत ही गरीब महिला है l फिर भी ग्रामसभा जगदीशगढ़ के प्रधान प्रधानमन्त्री आवास में धन उगाही से लेकर पात्रता सूची में गड़बड़ी करने से बाज नहीं आए l प्रधानमन्त्री आवास योजना की जो सूची तैयार की गई है वो वर्ष 2011 के आधारित है l उस पात्रता सूची में विमला देवी जो विधवा है,उसके पति मक्खन का नाम तीसरे क्रमांक पर दर्ज रहा परन्तु ग्राम प्रधान ने उसे प्रधानमन्त्री आवास योजना का लाभ नहीं दिया l इसी तरह कलावती के पति राम शिरोमणि का नाम चयनित सूची में 8 वें स्थान पर दर्ज रहा,परन्तु उसे भी हटाकर अपात्र को चयनित किया गया l वजह ग्राम प्रधान की मांग को पूरी न करना रहा l ये तो रही पात्रता सूची के चयन में अनियमितता का ! प्रधानमन्त्री आवास योजना में की गई गड़बड़ी की बात यही खत्म नहीं हुई l ग्राम प्रधान भ्रष्टाचार का रोग उन्हें पूरी तरह से अपने गिरफ्त में किये हुए है l
PMआवास योजना की सूची में अपात्रों का किया गया चयन...
प्रधानमन्त्री आवास योजना में दो ऐसे पात्र हैं जिनसे ग्राम प्रधान धन उगाही किये है l महेश सिंह का आरोप है कि ग्राम प्रधान ये कह कर पहली क़िस्त पाने पर उससे 25000 रुपये ले लिए कि दूसरी क़िस्त जब आयेगी तो दोनों क़िस्त का धन मिलाकर आवास का कार्य शुरू कराऊंगा l अब ग्राम प्रधान 25 हजार रूपये हजम करना चाह रहा है l मांगने पर मुकदमा लिखाने की धमकी भी देता है l महेश दिब्यांग है और गरीब भी l ऐसे ही विधवा रंजना से ग्राम प्रधान 10 हजार रुपये ऐठ लिए है l प्रधानमन्त्री आवास योजना में ये गड़बड़ी उस ब्लाक की है जहाँ के मंत्री डॉ महेंद्र सिंह हैं l डॉ महेंद्र सिंह ग्राम्य विकास के स्वतंत्र प्रभार वाले मंत्री है और उनके गृह जनपद के पैतृक निवास स्थान करमाही के बगल गाँव जगदीशगढ़ का है,जहां का ग्राम प्रधान सरकारी योजनाओं में डकैती डालने जैसा घृणित कार्य कर रहा है l जब मंत्री जे के गृह जनपद और उनकी ब्लाक के ग्राम सभा का यह हाल है तो और स्थानों कि बात मासा अल्ला है...!!!

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें