Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

शुक्रवार, 2 फ़रवरी 2018

भारतीय जनता पार्टी के नेता श्री संगम लाल त्रिपाठी “आज़ाद” ने दिखाई दरियादिली

#केंद्र_प्रदेश सरकार की सारी घोषणायें,सिर्फ हवा में l आम आदमी के लिए नहीं मिल पाती किसी भी तरह की सरकारी सुबिधाएं...!!!
@@@...ग्राम प्रधान के द्वारा नही की गई,अभी तक कोई मदद…!!!
भारतीय जनता पार्टी के नेता श्री संगम लाल त्रिपाठी “आज़ाद” ने दिखाई दरियादिली,कैंसर पीड़ित विद्या शंकर के परिवार को गैस चूल्हा, सिलेंडर व 21000/ रुपये की मदद कर दिखाई अन्य जनप्रतिनिधियों को आईना…!!!
प्रतापगढ़ l वैसे तो सरकारें दावे और घोषणाएं तो बहुत करती हैं,परन्तु हकीकत तब दिखा करती है,जब कोई आम आदमी जो उसका पात्र हो और उसे वह सुबिधा न मिले l रसूखदार लोंगो को तो हर तरह की सुबिधायें मिलती हैं,परन्तु वही जरुरत जब एक सामान्य आदमी को पड़ती है तो उसे नहीं मिला करती l कैंसर पीड़ित मरीज को विधायक/एम एल सी/सांसद अपनी निधि से अथवा अपने पत्र के माध्यम से मुख्यमंत्री राहत कोष से उसके ईलाज हेतु धन की मदद कर सकते हैं,परन्तु सामान्य आदमी की मदद हेतु कोई आगे आता नहीं l सिर्फ चुनाव के समय वोट लेने के लिए बड़ा सा कटोरा लेकर उस सामान्य आदमी के सामने खड़ा नजर आता है और चुनाव परिणाम बाद वो अपनी लूट खसोट में ब्यस्त हो जाता है l सरकारी योजनाओं का ही लाभ यदि हमारे जनप्रतिनिधियों द्वारा जरुरत मंद लोगों को दिलाने की शुरुवात हो जाए तो एक सामान्य परिवार भी लाईलाज वीमारी की तंगी से राहत की सांस ले सके l 
भाजपा युवा नेता आशुतोष त्रिपाठी की पहल पर मिल रही है,कैंसर पीड़ित विद्या शंकर को सहायता...
विद्या शंकर के पास न तो भूमि है,न भवन है और न तो खाने को अन्न l ईलाज की बात करना ही ब्यर्थ है l विद्या शंकर को 2 बच्चे हैं,एक की उम्र 10 वर्ष तो दूसरे की 8 वर्ष l पत्नी मिड डे मील में खाना बनाकर गुजर बसर कर रही है। सरकार कई बार घोषणा कर चुकी है कि गाँव में किसी भी ब्यक्ति की मौत यदि भूख से होती है तो उसके लिए ग्राम प्रधान,कोटेदार और गाँव का सेक्रेटरी जिम्मेवार होगा l सबसे पहली जिम्मेवारी ग्राम प्रधान की बनती है l ग्राम प्रधान की बात करें तो वह समाजवादी पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष भईया राम पटेल का बेटा है। भईया राम पटेल जब तक जिलाध्यक्ष के पद पर रहे वो अपना साम्राज्य बनाने में जुटे रहे और अब उसे बचाने में जुटे हैं l उनके परिवार में मानवता और इंसानियत है ही नहीं तो विद्या शंकर का क्या सहयोग करेंगे ? ऐसे में भाजपा के युवा नेता आशुतोष त्रिपाठी ने विद्या शंकर पाण्डेय की मदद के लिए आगे आये तो उनसे प्रभावित होकर उनके भाई जो दिल्ली में प्रवास करते हैं,वो दिल्ली से आकर जिले के सड़वाखास गांव में कैंसर पीड़ित विद्या शंकर को गैस चूल्हा,सिलेंडर व 21000/ रुपये की मदद की l भारतीय जनता पार्टी के नेता श्री संगम लाल त्रिपाठी “आज़ाद” के इस सहयोग की जितनी प्रशंसा की जाए वो कम होगी l साथ ही इस युवा नेता से जिले के अन्य जनप्रतिनिधियों को सीख लेनी चाहिए…!!!

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें