Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

शुक्रवार, 17 नवंबर 2017

पंडित हृदय नारायण मिश्र की तेरहवीं में बीमारी हालत में पहुंचे पंडित उदयराज मिश्र

पारिवार को एक सूत्र में बाँधे रखने और धार्मिक व सामाजिक कार्यों में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेने में अग्रणी थे,पंडित हृदय नारायण मिश्र...
यादों में पंडित हृदय नारायण मिश्र...
प्रतापगढ़। 10 बलीपुर में साईं नाथ मंदिर बनाकर प्रतापगढ़ में साईंनाथ भक्ति भावना को जागृत करने वाले व जगवंती प्रेस के स्वामी रहे पंडित हृदय नारायण मिश्र, उम्र-80 वर्ष की 5 नवम्बर को हृदय गति रुकने से उनकी सांसे थम गई और वो हमेशा के लिये चिर निद्रा में लीन हो गए। उनकी तेरहवीं में जिले के मानिंद लोग उनके आवास पहुंचकर उनको श्रद्धा सुमन अर्पित किये। साल भर से अधिक समय से बीमार बयोबृद्ध पंडित उदयराज मिश्र आज पंडित हृदय नारायण मिश्र की तेरहवीं में सरीक हुए
 पंडित उदयराज मिश्र को सहारा देते शैलेन्द्र नाथ मिश्र 
 वो आज अपने आपको रोक नहीं पाए। दूसरों के कंधो पर सहारा लेकर जब पंडित उदयराज मिश्र 10 बलीपुर पहुंचे तो लोगों उनके और स्व.पंडित हृदय नारायण मिश्र के आपसी सम्बन्धों को लेकर आपस में चर्चा करने लगे और बरबस ये कहने पर मजबूर हुए कि आपसी सम्बन्ध यदि किसी के साथ मजबूत रहता है तो वह भी अंतिम समय में पंडित उदयराज मिश्र की तरह अपने आपको रोक नहीं सकता और वह किसी भी दशा में अपनत्व बस अपने उस परिचित के यहाँ पहुँचता ही है पंडित उदयराज मिश्र ने शुक्रवार को बहू गीता मिश्रा के लिए वोट मांगा। पंडित हृदय नारायण मिश्र के आवास बलीपुर पहुंचकर उनके बड़े पुत्र शैलेन्द्र नाथ मिश्र से मिलकर अपनी बहू के लिए वोट मांगने से भी नहीं हिचके...!!!

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें