Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

मंगलवार, 14 नवंबर 2017

जिला अस्पताल पुरूष में जिलाधिकारी ने बाल दिवस के अवसर पर मरीजो को किया फल वितरित

पुरूष चिकित्सालय के इमरजेन्सी वार्ड में गन्दगी देखकर मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को लगायी फटकार...
DMने मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को लगायी फटकार...
बाल दिवस के अवसर पर प्रत्येक वर्ष की भॉति इस वर्ष भी लेखपाल संघ द्वारा फल का वितरण मरीजों को जिलाधिकारी श्री शम्भु कुमार, मुख्य राजस्व अधिकारी श्री राम सिंह वर्मा एवं अपर जिलाधिकारी श्री सोमदत्त मौर्य द्वारा किया गया। फल वितरण के समय इमरजेन्सी वार्ड में गन्दगी, इमरजेन्सी के मुख्य द्वार पर खून के धब्बे तथा किनारे काफी मात्रा में गन्दगी पड़ी थी और मरीजों के चारपाई के पास डिस्पोजल सिरिन्ज और जगह-जगह पर वार्डो में गन्दगी को देखकर जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधीक्षक प्रेम मोहन गुप्ता को कड़ी फटकार लगायी। जिलाधिकारी के द्वारा पूर्व निरीक्षण में भी मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को सफाई और अस्पताल के रखरखाव के बारे में चेतावनी दी जाती रही लेकिन उसके बावजूद भी मुख्य चिकित्सा अधीक्षक द्वारा अपने कार्य प्रणाली में किसी तरह का कोई सुधार नही किया गया, हमेशा अधिकारियों को अंधेरे में रखने की इनके द्वारा कोशिश की गयी। जिसके लिये जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 आर0के0 नैय्यर को निर्देशित करते हुये कहा कि अस्पताल में साफ-सफाई व्यवस्था के सम्बन्ध में मुख्य चिकित्सा अधीक्षक, ई0एम0ओ0 डाक्टर अनुज, स्टाफ नर्स सावित्री देवी और सफाई कर्मी दिलीप कुमार और मनोज कुमार द्वारा की जा रही शिथिलता के सम्बन्ध में अवगत कराना सुनिश्चित करें। जिला अस्पताल के इमरजेन्सी वार्ड में अवारा पशुओं को देखकर जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधीक्षक से पूछा कि अस्पताल में अवारा पशुओं के आने जाने के सम्बन्ध में आप द्वारा क्या किया गया है, इसके लिये लिखित रूप में अवगत कराये। 

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें