Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

गुरुवार, 5 अक्तूबर 2017

कलेक्टर के नाक के नीचे दिन के उजाले में नगरक्षेत्र के प्रमुख चौराहों एवं गलियों में जलती रहती हैं,स्ट्रीट लाइट्स...

नगर विकास विभाग भी ऊर्जा की बचत के लिये जारी किया है,शासनादेश कि दिन में स्ट्रीट लाइट्स जलती मिले तो जिम्मेदार होंगे अधिकारी....
शासनादेश की उड़ाई जा रही हैं,धज्जियां...
प्रतापगढ़॥ आज सुबह के 7:30 से 8:30 बजे तक एक घंटे तक शहर का भ्रमण किया। मकसद राष्ट्रहित में ऊर्जा की बचत की तहकीकात करना था। आईये आज खुलासा इंडिया के कैमरे में उसकी हकीकत जो कैद हुई है,उससे आप भी रूबरू होईये। शहर भर में दो दर्जन हाईमास्ट,5 दर्जन मिनी हाईमास्ट और हजारों स्ट्रीट लाइट्स लगे हैं,जिसका रख रखाव नगरपालिका करती है। शाम को जलाने और सुबह बुझाने का दायित्व भी नगरपालिका के ऊपर है। नगरपालिका के जिन कर्मचारियो को इसे जलाने और बुझाने का दायित्व सौंपा गया वो लापरवाह किस्म के हैं। तभी तो सुबह देर तक हाईमास्ट सहित स्ट्रीट लाइट्स जलती रहती हैं। मुहल्लों की गलियों में तो पूरे दिन स्ट्रीट लाइट्स जलती रहती हैं। उसे बुझाने वाला नगरपालिका से कोई नहीं आता। जो बुझाता है,वो बताता है कि एक व्यक्ति कितनी लाइट्स बुझा सकेगा...???

  लोहिया पार्क तिराहे पर दिन के उजाले में जलता हाईमास्ट...
एक हकीकत ये भी है कि निवर्तमान नपाध्यक्ष हरि प्रताप सिंह के राजधानी आवास एवं प्रतापगढ़(बेल्हा)में फार्म हाउस सहित व्यवसायिक प्रतिष्ठानों पर जो नगरपालिका के कर्मचारी लगे थे,उन नगरपालिका के कर्मचारियो की वापसी अभी नहीं हुई...!!! नगरपालिका प्रशासन को चाहिये कि उन सभी कर्मचारियो की वापसी सुनिश्चित करे और लाइट्स जलाने और बुझाने के लिये और कर्मचारी की तैनाती करे। गौर करने वाली बात ये है कि द्वितीय श्रेणी की नगरपालिका परिषद बेला,प्रतापगढ़ में पूरे नगरपालिका क्षेत्र की बात करें तो जितने भी हाईमास्ट और स्ट्रीट लाइट्स स्थापित कराये हैं,उनमें किसी में भी जलाने व बुझाने के लिये स्विच नहीं लगाए गए हैं। यानि जनता में इसका प्रचार व प्रसार किया जाए कि जनता ही इन जलती हुई लाइट्स को जला व बुझा लिया करें तो वो भी सम्भव नहीं। क्योंकि उसमें स्विच न होने से करेंट लगने का खतरा रहता है। मारे डर वश आम जनता उसे चाहकर भी हाथ नहीं लगाती। सवाल ये उठता है,जब हाईमास्ट व लाइट्स स्थापित कराने के लिये बनाए गए इस्टीमेट में स्विच का जिक्र रहता है और ठेकेदार का स्विच का भुगतान भी होता है,तो उसे नगरपालिका लगवाती क्यों नहीं...???
जनपद स्तर के अधिकारियों के ट्रांजिट हॉस्टल के पास जलता हाईमास्ट ...
"ऊर्जामंत्री की अपील कि देशहित में ऊर्जा की बचत करें और नगरपालिका प्रतापगढ़ के हुक्मरान कर रहे हैं,ऊर्जा की बर्बादी "

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें