हिन्दुस्तान की राष्ट्रवादी जनता ने वर्ष 2014 में देश की मनमोहनी सरकार से सत्ता की चाभी उसके हाथ से छीनकर नरेन्द्र मोदी के हाथों में इसीलिए तो दी थी।

7:33:00 pm 0 Comments Views


 देश के जवानों के बीच दीपोत्सव मनाते देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 
जम्मू-काश्मीर के सर्वाधिक दुर्गम एवं कठिन भौगोलिक परिस्थितियों वाले सीमावर्ती क्षेत्र गुरेज सेक्टर में तैनात वीर सैनिकों के साथ दीपावली मनाते समय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कहा कि देश बहुत धनवान तो नहीं किंतु देश के पास जो और जितने भी संसाधन हैं,उन पर सेना BSF,CRPF राष्ट्रीय राइफल्स और अन्य सभी सुरक्षाबलों के जवानों का अग्रिम अधिकार है l आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मुख से ये बातें सुनकर मुझे एक दशक पहले की बात याद आ गई कि लगभग सभी मुद्दों पर चुप्पी साधने वाला कांग्रेसी प्रधानमंत्री (रबर स्टाम्प) ने कहा था कि देश के संसाधनों पर मुसलमानों का पहला हक है। फिर मुझे याद आया कि साढ़े तीन साल पहले हिंदुस्तान ने 2014 में सत्ता की चाभी उसके हाथ से छीनकर राष्ट्रवादी सोच वाले संभावित उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी के हाथों में इसीलिए तो दी थी। फिर यह सोचकर मेरे तन मन में गर्व और गौरव की लहर बिजली के करेंट की तरह दौड़ गयी और मैं रोमांचित हो गया कि साढ़े तीन साल पहले हिंदुस्तान द्वारा किए गए उस ऐतिहासिक फैसले में मेरी भी भागीदारी थी।

rameshrajdar

एक खोजी पत्रकार की सत्य खबरें जिन्हे पूरा पढ़े बिना आप रह ही नहीं सकते हैं ,इस खबर को पढ़ने के लिए............| Google || Facebook

0 टिप्पणियाँ: