अपना दल एस के पार्टी पदाधिकारियों को नहीं है,कोई ज्ञान।

6:39:00 am 0 Comments Views

अपना दल एस के पार्टी पदाधिकारियों में जानकरी का जबरदस्त अभाव, असमंजस में अपना दल एस के कार्यकर्ता । 
निकाय चुनाव के लेकर पार्टी पदाधिकारियों की बैठक करते अपना दल एस के राष्ट्रीय अध्यक्ष आशीष सिंह  
कहते हैं,जिससे जन्मते नहीं बनता,उससे मरते भी नहीं बनता...!!! और जन्म ही जब विवाद हो तो क्या कहने...??? बात अपना दल के संस्थापक सोने लाल पटेल के राजनीतिक दल "अपना दल" की है,जिसमें उनके स्वर्गीय होने के बाद माँ कृष्णा पटेल और बड़ी बेटी अनुप्रिया पटेल में पार्टी के ऊपर बर्चस्व को लेकर आपस में ठनी,जिसमें मामा माहिल की भूमिका में प्रतापगढ़ के सांसद कुंवर हरिवंश सिंह रहे। मामला इतना आगे बढ़ गया कि माँ और बेटी की राहे जुदा हो गई और एक नई पार्टी का सृजन हो गया जिसका नाम अपना दल सोनेलाल पड़ा। शुरू में इस राजनीतिक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष जवाहर लाल पटेल रहे और पार्टी की संरक्षिका स्वयं मोदी मंत्रिमंडल की मंत्री अनुप्रिया पटेल रही और उ.प्र. में विधान सभा चुनाव के बाद अपना दल एस के राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में अनुप्रिया पटेल के पति आशीष सिंह चुनाव् हुआ और पार्टी को मजबूती प्रदान करने के लिए भाजपा की बदौलत मोदी लहर में पार्टी में जीते हुए विधायक को ही पार्टी का पदाधिकारी बना दिया गया। उसी क्रम में प्रतापगढ़ से निर्वाचित विधायक संगम लाल गुप्ता को भी राष्ट्रीय सचिव की जिम्मेदारी दी गई। विधायक संगम लाल गुप्ता ने प्रतापगढ़ से महिला मंच की जिलाध्यक्ष के रूप में पूनम गुप्ता को पार्टी से जोड़कर मजबूती प्रदान करने की चाल चली,परन्तु जैसे संगम लाल गुप्ता,वैसे पूनम गुप्ता...!!!
अपना दल एस की तरफ से जारी हुआ सभी जिलाध्यक्षो को निकाय चुनाव की दिशा निर्देशिका...!!!
यहाँ ये कहावत संगम लाल गुप्ता और पूनम गुप्ता पर एक दम फिट बैठ रही है कि राम बनाए जोड़ी,एकवा आंधर और एकवा कोढ़ी। अपना दल एस के टिकट से सदर विधायक चुने जाने वाले संगम लाल गुप्ता जिन्हें अपना दल एस के राष्ट्रीय अध्यक्ष आशीष सिंह ने राष्ट्रीय सचिव बनाया और पार्टी को मजबूती प्रदान करने के लिए महिला विंग की स्थापना की। परन्तु उस कुर्सी पर जिस पूनम गुप्ता को प्रतापगढ़ जनपद से महिला मंच की जिलाध्यक्ष पद के लिए विधायक संगम लाल गुप्ता ने सिफारस कर पार्टी में स्थान दिलाया वो जानकारी के मामले में संगम लाल गुप्ता से भी दो कदम आगे। उन्हें तो इतना भी नहीं पता कि अपना दल एस से उन्हें नगरपालिका अध्यक्ष पद का टिकट मांगना चाहिए कि भाजपा से...???  
राष्ट्रीय सचिव अपना दल एस एवं सदर प्रतापगढ़ विधायक संगम लाल गुप्ता 
पूनम गुप्ता ने भाजपा में नगरपालिका के अध्यक्ष पद हेतु अपना आवेदन दिया है,जिसे उन्होंने स्वयं पुष्टि की है। अब अपना दल एस ने नगरपालिका अध्यक्ष पद हेतु अपने जिलाध्यक्षो को उम्मीदवार तलाशने के लिए दिशा निर्देश जारी किये है। प्रतापगढ़ नगरपालिका अध्यक्ष पद की सीट इस बार महिला सामान्य आरक्षित हुई है। ऐसे में पूनम गुप्ता अपना दल एस से टिकट न मांग कर भाजपा से मांगकर अपना दल एस के लिए सिर दर्दी बढ़ा दी है...!!!  
अपना दल एस की महिला मंच की जिलाध्यक्ष पूनम गुप्ता
पूनम गुप्ता के समर्थन में पहले तो सदर विधायक संगम लाल गुप्ता उतरे और उन्होंने अपने चुनाव का उदहारण देकर पूनम गुप्ता के द्वारा दिए गए आवेदन को सही ठहराया और सफाई दिया कि भाजपा और अपना दल एस दोनों एक ही दल है और दोनों का आपस में गठबंधन है। ऐसे में पूनम गुप्ता ने भाजपा में आवेदन कर कोई गलत कार्य नहीं किया। राष्ट्रीय सचिव संगम लाल गुप्ता ने ये भी कहा कि उनका भी टिकट भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारिणी में रहते हुए अपना दल एस से मिला था। फ़िलहाल थोड़ी ही देर में विधायक संगम लाल गुप्ता को अपनी गलती का एहसास हुआ और उन्होंने पूरे प्रकरण से अपना पल्ला झाड़ लिया और  अपने को अलग कर लिया...!!!

rameshrajdar

एक खोजी पत्रकार की सत्य खबरें जिन्हे पूरा पढ़े बिना आप रह ही नहीं सकते हैं ,इस खबर को पढ़ने के लिए............| Google || Facebook

0 टिप्पणियाँ: