Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

मंगलवार, 28 जून 2016

अब यूपी में कांग्रेस चलेगी ऐसा दांव, 'टेंशन' में आ सकते हैं अखिलेश

अब यू. पी. में कांग्रेस चलेगी ऐसा दांव,''टेंशन'' में आ सकते हैं,अखिलेश...!!!
जिन्दा होना चाहती है कांग्रेस...!!! 
यूपी में कांग्रेस 2017 के चुनाव के मद्देनजर प्रमुख मुद्दों को उठाकर दूसरे दलों खासकर सपा सरकार को टेंशन देने का काम करेगी। कांग्रेस ने तय किया है कि वह सपा के मुस्लिमों को आरक्षण देने के चुनावी वादे को याद दिलाएगी।मुलायम सिंह और अखिलेश यादव से पूछेगी कि कितने मुस्लिमों को आरक्षण दिया गया और उनकी सूची भी मांगेगी। कांग्रेस इसी तरह उन राज्यों के संवेदनशील मुद्दों को भी उठाएगी जहां-जहां अगले साल चुनाव होने हैं।
सपा ने 2012 में चुनाव के दौरान मुस्लिमों को आरक्षण  देने का वादा किया था। अब सपा की सरकार बने चार साल से अधिक हो गए  हैं। आरक्षण अभी तक दिया नहीं गया। अब विरोधी दलों से जुड़े मुस्लिम नेता लगातार सपा से इस मुद्दे पर सवाल कर रहे हैं।
होगी सपा की घेराबंदी...!!!













पी.के. के  फार्मूले से उ.प्र. में जान फूकना चाहती है कांग्रेस....!!!
कांग्रेस ने भी इस मुद्दे को लेकर सपा की घेराबंदी की रणनीति बनाई है। कांग्रेस अल्पसंख्यक  मोर्चा  रणनीति के तहत इसको मुद्दा बनाएगा। कांग्रेस का मानना है कि प्रदेश में  इस मुद्दे  को उठाने के मुस्लिमों में संदेश जाएगा कि कांग्रेस उनकी हमदर्द है। चुनाव में इसका लाभ मिल सकता है।
इसी तरह कांग्रेस सपा को घेरने के लिए प्रदेश में मुस्लिमों केहित के लिए चलाई जा रही योजनाओं की असलयित का पता लगाकर उसकी सही जानकारी सार्वजनिक करेगी। पार्टी की सोच है कि सपा सरकार में  मुस्लिमों के  हित के लिए सिर्फ घोषणाएं ज्यादा की गई है, उन पर अमल करने में  दिलचस्पी नहीं दिखाई  गई ।
कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक पार्टी  ने  इन मुद्दों को लेकर मुस्लिमों में असलियत जानो अभियान छेडना तय किया है। सूत्रों के मुताबिक जिन जिन प्रदेशों में अगले साल चुनाव होंगे, वहां की गैर कांग्रेसी सरकारों की खामियों को एकत्र कर पार्टी  जनता केबीच जाएगी। जनता से मौजूदा सरकार वाले दल ने चुनाव में कितने  वादे किए थे और कितने पूरे नहीं किए उनका तथ्यों के साथ पार्टी खुलासा  करेगी।




कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें