Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

मंगलवार, 24 मई 2016

प्रशांत भूषण ने केजरी को बताया बेईमान, बोले-फायदा हो तो मोदी से मिला लेंगे हाथ...!!!

प्रशांत भूषण ने केजरी को बताया बेईमान, बोले-फायदा हो तो मोदी से मिला लेंगे हाथ...!!!
प्रशांत भूषण ने लगाए केजरीवाल पर बेईमान होने के आरोप। (फाइल)

नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी के एक्स लीडर प्रशांत भूषण ने अरविंद केजरीवाल पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने केजरीवाल को 'पूरी तरह बेईमान' (टोटली करप्ट) बताया है। भूषण का दावा है कि केजरीवाल अपने पर्सनल फायदे के लिए नरेंद्र मोदी से भी हाथ मिला सकते हैं। भूषण इन दिनों अमेरिका के टूर पर हैं। यहां इंडो-अमेरिकी कम्युनिटी के एक ग्रुप को एड्रेस करते हुए उन्होंने ये बात कही।

मेरा और योगेंद्र यादव का यूज किया...!!!
- प्रशांत ने कहा, 'जिस दिन उन्हें अपना फायदा नजर आया, वे मोदी से हाथ मिला लेंगे। इसमें मुझे कोई शक नहीं है।' 

- प्रशांत का ये भी आरोप है, 'केजरीवाल ने पार्टी का भरोसा जीतने के लिए मेरा और योगेंद्र यादव का यूज किया।'

- 'केजरीवाल हमेशा से ही अपने एजेंडे पर आगे बढ़ना चाहते थे। इसलिए उन्होंने आप के फैसले लेने वाली सभी बॉडीज में अपने लोग सेट किए और बहुमत हासिल कर लिया।'
- भूषण ने कहा, 'हमें केजरीवाल की फितरत का पहले पता नहीं चल पाया, इस बात का बेहद अफसोस है।'
- भूषण का यह कमेंट तब आया है, जब दिल्ली सरकार और मोदी सरकार के बीच कई मुद्दों पर टकराव होता रहता है।
'केजरीवाल का हाल मनमोहन सिंह के जैसा'
- भूषण ने कहा कि ‘अरविंद का हाल मनमोहन सिंह जैसा ही है जिन्होंने खुद कभी एक रुपया नहीं लिया, लेकिन अपने आसपास के लोगों को करप्शन करने की छूट दे दी।’
- प्रशांत ये भी कहते हैं, 'करप्शन से लड़ने में केजरीवाल को कोई इंटरेस्ट नहीं है।'

- आप MLA के करप्शन मामलों का जिक्र करते हुए प्रशांत ने कहा, 'अरविंद खुद कोई रिस्पॉन्सिबिलिटी नहीं लेना चाहते।'
प्रिंसिपल लेस पार्टी है, आप...!!!
- पंजाब चुनाव में आप के रोल पर पूछे गए एक सवाल के जवाब में प्रशांत ने कहा कि 'पंजाब में अगर आप जीती तो उसकी सरकार कांग्रेस से भी बुरी होगी।'

- उन्होंने कहा, 'अब आप का कोई प्रिंसिपल नही रह गया है। वह यह प्रिंसिपल लेस और एनार्किस्ट पार्टी हो गई है।'

- भूषण के मुताबिक, 'पंजाब में आप से कांग्रेस कहीं ज्यादा अच्छा ऑप्शन साबित हो सकती है। कांग्रेस के पास सरकार चलाने का एक्सपीरियंस है।'
अभी चुनाव से दूर रहेगा स्वराज अभियान...!!!
- प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव के स्वराज अभियान दल के पॉलिटिक्स में एंट्री करने के सवाल पर प्रशांत ने कहा, 'फिलहाल हम इसके लिए तैयार नहीं है।'

- 'हम तैयारी कर रहे हैं इसमें लगभग एक साल और लगेगा।'

- 'इलेक्शन-पॉलिटिक्स में एंट्री से पहले स्वराज अभियान दल खुद के भीतर ट्रांसपेरेंसी, रिस्पॉन्सिबिलिटी और डेमोक्रेसी अपनाना चाहता है।' 
- भूषण ने साफ किया, 'हमने आप के मामले में जो गलतियां की हैं, उन्हें दोहराना नहीं चाहते।'

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें