Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

सोमवार, 2 मई 2016

अगस्ता घोटाले पर सक्रिय हुई सीबीआइ, पूर्व उप वायुसेनाध्यक्ष से 9 घंटे पूछताछ....!!!

 अगस्ता घोटाले पर सक्रिय हुई सीबीआइ, पूर्व उप वायुसेनाध्यक्ष से 9 घंटे पूछताछ....!!!



 नई दिल्ली। अगस्ता वेस्टलैंड रिश्वतखोरी मामले में इटली की अदालत के फैसले के बाद सीबीआइ भी घोटाले की जांच में सक्रिय हो गई है। 3600 करोड़ रुपये के हेलीकॉप्टर सौदे में अनियमितताओं को लेकर इसने आरोपियों से दोबारा पूछताछ का काम शुरू कर दिया है। इस सिलसिले में जांच एजेंसी ने शनिवार को हेलीकॉप्टर खरीद प्रक्रिया में शामिल तत्कालीन उप वायु सेनाध्यक्ष जेएस गुजराल से पूछताछ की। सोमवार को तत्कालीन वायु सेनाध्यक्ष एसपी त्यागी को तलब किया गया है। त्यागी के भाइयों को अगले हफ्ते पूछताछ के लिए हाजिर होने को कहा गया है। उन पर भी घोटाले में शामिल रहने का आरोप है।

एयर मार्शल (सेवानिवृत्त) गुजराल शनिवार सुबह यहां सीबीआइ मुख्यालय पहुंचे और मामले की जांच कर रही टीम के समक्ष पेश हुए। सीबीआइ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि नौ घंटे की पूछताछ में गुजराल का रवैया सहयोगात्मक रहा। उनसे आगे भी पूछताछ जारी रहेगी। 2005 में वरिष्ठ अधिकारियों की एक बैठक के दौरान हेलीकॉप्टर के चालन और उड़ान संबंधी मापदंडों में बदलाव करने का निर्णय लिया गया था। उस बैठक में गुजराल भी शामिल हुए थे।
एजेंसी ने अभी तक उन पर कोई आरोप नहीं लगाया है।इससे पहले 2013 में भी गुजराल से विस्तार से पूछताछ हो चुकी है। लेकिन इटली की अदालत के फैसले के आलोक में इस बार उनसे नए सिरे से सवाल पूछे गए। गुजराल से मिली जानकारी के आधार पर सोमवार को एसपी त्यागी से पूछताछ की जाएगी। अधिकारी ने कहा कि अभी तक घोटाले से संबंधित 100 से अधिक लोगों से सीबीआइ पूछताछ कर चुकी है। जरूरत पड़ने पर इटली की अदालत में दोषी ठहराये गए जिउसेपे ओरसी और ब्रूनो स्पैगनोलिनी से भी पूछताछ की जा सकती है।
कई देशों ने दिया जवाब....!!!
सीबीआइ को इटली से अनुरोध पत्र (एलआर) का पिछले साल दिसंबर में ही जवाब मिल चुका है। इसमें घोटाले से संबंधित अहम दस्तावेज शामिल हैं। ब्रिटेन, ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड और ट्यूनीशिया ने भी एलआर के कुछ भाग का जबाव दे दिया। अन्य देशों से एलआर के जबाव का इंतजार किया जा रहा है। रिश्वत की रकम की लेन-देन की पूरी कड़ी को जोड़ने के लिए इन देशों से एलआर का जबाव जरूरी है।
दलाल को लाने पर ध्यान....!!!
फिलहाल सीबीआइ का मुख्य ध्यान घोटाले के मुख्य दलाल क्रिश्चियन मिशेल को भारत लाने पर है। मिशेल के खिलाफ रेड कार्नर नोटिस जारी है और उसके ताजा ठिकाने का पता लगाया जा रहा है। सीबीआइ को इटली की अदालत के फैसले की प्रति मिल गई है। अदालत से सत्यापित प्रति का अभी तक इंतजार है। जांच एजेंसी ने इस घोटाले को लेकर पूर्व वायु सेना प्रमुख त्यागी और 13 अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया है।इसमें उनके संबंधी और यूरोपीय बिचौलिए शामिल हैं। त्यागी ने रिश्वतखोरी के आरोपों से इन्कार किया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें