Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

शुक्रवार, 8 अप्रैल 2016

जनता को चाहिए 4 सालों का हिसाब....!!!

सत्ता का भी और विपक्ष का भी...!!!
लोकतंत्र में जनप्रतिनिधियों का हिसाब - किताब भी रखना आवश्यक होता है । इसलिए जरा हिसाब किताब हो जाए। सरकार के साथ - साथ विपक्ष की भी पड़ताल हो जाए। इस पेज की स्थापना इसी उद्देश्य से किया गया है। हम इस पर आपकी टिप्पणी चाहते हैं। खुलकर बताइए कि प्रदेश सरकार अपने 4 वर्ष के कार्यकाल में कहां तक सफल या असफल रही...? बतौर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव कितने सफल रहे....? उनकी कार्य कुशलता और प्रशासनिक क्षमता से प्रदेश के युवा कितने  प्रभावित हुए....? युवा जो वर्ष 2012 में उन्हें झूमकर अपना मतदान दिया, क्या वो उसी तरह वर्ष 2017 में उनके साथ उसी तरह जुड़ी है अथवा उनसे युवाओं को झटका लगा। साथ ही विपक्ष ने जनहित के मुद्दों को उठाने में कितनी मशक्कत की....?
ऐसा तो नहीं कि जो विपक्ष में बैठने के लायक भी नहीं हैं, वह सत्ता का ख्वाब देख रहे हों....? ऐसा तो नहीं कि बिल्ली के भाग्य से छींका टूटने का विपक्ष इन्तजार कर रहा है....? नकारे हुए लोगों को सत्ता मिल जाए और हम खुद को समाज का जागरूक व्यक्ति कहते ही रह जाए। जागरूक हैं, तो जागरूकता दिखाई देनी चाहिए। अग्रणी भूमिका निभाईए। अपनी राय अवश्य दीजिए। वाद-प्रतिवाद कीजिए। पेज पर जनहित से जुड़े मुद्दों पर अपनी प्रतिक्रिया तो दीजिए ही। जनहित के मुद्दों पर चर्चा में शामिल भी हों और अपने पास साक्ष्य की फोटो हो तो उसे भी दें, नहीं तो अपनी राय अवश्य ही दीजिए। ये वक्त देश-प्रदेश और समाज के लिए कुछ कर गुजरने का है। ये पेज आपका है। इसे सुन्दर और सजग बनाने के लिए अपने कीमती समय की आहूती इस पेज के लिए देनी होगी। फिर देरी किसलिए....? आइए...., आप और हम मिलकर जनता की आवाज बने। लोकतंत्र में विचारों के मंथन को गति दें....!!!

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें