Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

बुधवार, 13 अप्रैल 2016

भाजपा नेता रवि सिंह पर हुआ हमला....!!!

@@@.....नगर पालिका 2012 के अध्यक्ष पद का लड़ चुके हैं भाजपा के टिकट से चुनाव....!!!
#####...... भाजपा के कट्टर हिंदुत्व और संघ व बिहिप के पसंदीदा प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य की ललकार भी नहीं आई प्रतापगढ़ के भाजपाइयों में जोश....!!!
&&&&&......ऐसे में कैसे पार करेंगें 2017 की चुनावी वैतरणी....???
$$$$$$.....प्रतापगढ़ भाजपा संगठन है या बुजदिलों का समूह ....!!!

आज दोपहर जिलाधिकारी आवास से महज कुछ हो दूर पर भाजपा नेता रवि सिंह और जेल रोड़ निवासी शेखर सिंह व मीराभावान निवासी मयंक सिंह के बीच जमीनी विवाद के कारण मारपीट हो गई, वो भी राजस्व और पुलिस अधिकारियों के सामने...!!! मयंक सिंह और शेखर सिंह शहर में जमीन खरीदने और बेंचने का ब्यवसाय करते हैं l रोडबेज बस अड्डे के आगे एक विवादिन जमीन का दोनों पक्षों ने बैनामा अलग - अलग लोंगों से ले रखा है ...!!! कल उक्त जमीन को लेकर विवाद हुआ था तो जिलाधिकारी महोदय के निर्देश पर कोतवाली नगर में प्राथमिकी भी पंजीकृत किया गया ....!!!

आज दोपहर को राजस्व टीम और पुलिस की मौजूदगी में भाजपा नेता रवि सिंह और दूसरा पक्ष शेखर सिंह और मयंक सिंह के बीच पहले कहा सुनी हुई और कहासुनी होते - होते मामला मारपीट में तब्दील हो गया l एक पत्रकार साथी ने अभी "प्रेस क्लब बेल्हा" व्हाट्सआप गरु पर खबर पोस्ट की l जिसमें उन्होंने लिखा कि भाजपा नेता के साथ बदसलूकी हुई....!!! फिर मैं अपने आपको रोक न सका....!!! भाजपा नेता के साथ बदसलूकी हुई नहीं बल्कि जानलेवा हमला हुआ है l

सूत्रों के अनुसार जबड़ा फ्रैक्चर हुआ है l सिर में काफी गंभीर चोट लगी है l इलाहाबाद में गंभीर हालत में उनका इलाज चल रहा है l आज मुझे ताज्जुब ये हुआ कि जो पत्रकार बड़े - बड़े दावे करता है कि मेरी खबर का ये असर हुआ और मेरी खबर से वो असर हुआ ....??? कई पत्रकार तो रवि सिंह के अति करीबी भी हैं l रोज वहीं बैठकी भी करते हैं l कई अख़बारों के दफ्तर जो रवि के यहाँ किराए पर संचालित हुआ करता है l अब सुबह उन्ही का असर देखना बाकी रह गया है l लगभग 100 से अधिक व्हाट्सआप ग्रुप मीडिया और मीडिया के लोंगों से जुड़े लोग चला रहे हैं l

इलेक्ट्रानिक मीडिया के लोग जो छोटी - छोटी खबर पर कार्यवाही होने के बाद उसका असर दिखाना शुरू कर देते हैं l आज उनकी निष्पक्षता को मैं दिन भर देख रहा था l अभी यही खबर किसी ऐरे - गैरे की होती तो उसकी कब्र भी खोदने से ये मीडिया के लोग बाज़ न आते l पंरतु आज तो बहुत बचाकर खबर लिखी गई l क्या प्रतापगढ़ की मीडिया भी डर गई ...??? या वो भी प्रभावित हो गई...!!! सिर्फ 2 लोंगों को किसी ने हिरासत में दिखाया तो किसी ने पुलिस कस्टडी में....!!!

अभी ये प्रकरण किसी बनिया से जुड़ा होता तो उसका घर घामे छाने से भी बाज़ न आते हमारे मीडिया के ये मित्र....!!! किसी मित्र ने तो ये भी लिखा कि सत्ता पक्ष के दबाव में क्रास केस भी किया गया l परन्तु अधिकृत जानकारी अभी तक नहीं उपलब्ध हो सकी l एक बार लाकप में डालकर सत्ता के आकाओं का फोन आया तो लाकप से बाहर भी करने की खबर प्रकाश में आई ....!!! आज के लिए सिर्फ इतना ही....!!! सुबह अखबार के तेवर पर पुनः चर्चा करूँगा दिगग्ज पत्रकारों के दोहरे चरित्र पर....!!!

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें