Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

सोमवार, 11 अप्रैल 2016

हे राम.....!!!


सतीश मिश्र की कलम से.......!!!

हे राम.....!!!
मई,2014 में हमने कैसे छछूंदरों के सिर पर सत्ता की चमेली का तेल मल के उन्हें दिल्ली भेज दिया....???
देश के मष्तक पर देशद्रोही गुंडे, देश की राष्ट्रवादी "मेधा" के रक्त से होली खेल रहे हैं और दिल्ली में बैठे कर्णधार/पहरेदार क्या कर रहे हैं....??? यह शर्मनाक सच किसी से छुपा नहीं है....!!! मैं सोच रहा हूँ कि, लगभग दो साल पहले मई, 2014 में हमने - आपने, कैसे और कितने निकृष्ट नपुंसक कृतघ्न छछूंदरों के सिर पर सत्ता की चमेली का तेल मलने की भारी भूल की थी.....???
यात्रा में हूँ और शिमला की अच्छी खासी ठंड में भी श्रीनगर NIT के राष्ट्रभक्त मेधावी छात्रों की रक्तरंजित व्यथा रक्त को उबालने का कार्य कर रही है.....!!! "भारत मत की जय" नहीं बोलने वालो को देश से खदेड़ देने की गीदड़ भभकियां देने वाले सियासी शिखंडियो की शासकीय नपुंसकता राजनीतिक निर्लज्जता और वैचारिक धूर्तता को श्रीनगर NIT के छात्रों के रक्तरंजित चेहरों ने बेनकाब किया है.....!!!

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें