Breaking

Post Top Ad

Your Ad Spot

शनिवार, 16 अप्रैल 2016

मुकेश अम्बानी ने ओ.एन.जी.सी. के ब्लॉक से 11,055 करोड़ की गैस चुराई...!!!

विशेष रिपोर्ट : मुकेश अम्बानी ने ओ.एन.जी.सी. के ब्लॉक से 11,055 करोड़ की गैस चुराई...!!!
नई दिल्ली : प्रधानमंत्री मोदी के सबसे करीबी माने जाने वाले उद्योगपति मुकेश अम्बानी की
रिलायंस इंडस्ट्री और देश में प्राकृतिक गैस निकालने वाली सरकारी कंपनी  ओएनजीसी(ONGC) के विवाद की जाँच कर रही अमेरिकी एजेंसी डगोलायर एंड मेकनॉटन की रिपोर्ट सामने आ गई है।  
डी एंड एम ने पेट्रोलियम और नेचुरल गैस मिनिस्ट्री को अक्टूबर में सौंपी इस रिपोर्ट में कहा है कि ओएनजीसी के गैस ब्लॉक के बगल में बनाये गए रिलायंस इंडस्ट्री के ब्लॉक से ओएनजीसी कागैस उत्पादन न सिर्फ प्रभावित हो रहा है बल्कि गैस का  लाभ रिलायंस को मिल रहा है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि रिलायंस के ब्लॉकों की मौजूदगी से ONGC का तकरीबन 11.12 घन मीटर गैस जिसकी कीमत तकरीबन 11,055 करोड़ है, प्रभावित हुआ है जिसका प्रवाह रिलायंस के गैस ब्लॉक की तरफ हुआ है। डगोलायर एंड मेकनॉटन ने अपनी इस रिपोर्ट में कहा है कि बंगाल में स्थित ONGC के कृष्णा गोदावरी बेसिन Krishna गोदावरी बेसिन KG-DWN-98/2 (KG-D5) और (PML) ब्लॉक रिलायंस के धीरूभाई -1 and 3और (D1 & D3) फील्ड से जुड़े हुए हैं। जो कि 
ओएनजीसी के उत्पादन को प्रभावित करते हैं।  

क्या था मामला.....?
---------------------
गौरतलब है कि देश की सबसे बड़ी तेल उत्पादक कंपनी ओएनजीसी ने 2013 में रिलायंस इंडस्ट्रीज पर आरोप लगाये थे कि उसने ओएनजीसी के गैस फील्ड के पास अपना गैस प्लांट लगाकर उसके गैस फील्ड से गैस चुराई है, जिसको लेकर उसने मंत्रालय में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी।लेकिन वहीँ दूसरी और रिलायंस का कहना था कि उन्होंने गैस ब्लॉक का काम पेट्रोलियम एंड गैस मिनिस्ट्री से अनुमति लेकर किया है। इस मामले की जाँच करने वाली एजेंसी डगोलायर एंड मेकनॉटन ने कहा कि 31 मार्च 2015 तक रिलायंस ने इस ब्लॉक से 58.67 बिलियन क्यूबिक मीटर गैस निकाली है, जिसमे से ओएनजीसी का दावा है कि 11.95 बीसीएम उसकी गैस थी। 

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Top Ad

Your Ad Spot

अधिक जानें