प्रतापगढ़ के चहुंमुखी विकास हेतु नव निर्वाचित सांसद संगम लाल गुप्ता के अथक प्रयास से आ सका,मानसून

8:57:00 pm 0 Comments

संगम लाल गुप्ता का प्रयास लाया रंग,प्रधामंत्री मोदी से शिफारस कर मानसून लाने में सफल हुए,संसद प्रतापगढ़...!!!
प्रधानमंत्री जी द्वारा नई दिल्ली के होटल अशोका में सांसदों को दिए गए भोज की एक झलक...
सत्रहवीं लोकसभा के गठन के बाद सांसदो का शपथ समारोह आयोजित हुआ। सभी निर्वाचित सांसद दिल्ली दरबार पहुँच कर लोकतंत्र के पवित्र मंदिर में शपथ लिए। इसी बीच पीएम मोदी ने सभी सांसदों को डिनर पार्टी दी। पार्टी का आयोजन चल ही रहा था कि एक समर्थक ने सांसद संगम लाल गुप्ता को फोन किया। उधर से बहुत धीरे से आवाज आई कि पीएम की डिनर पार्टी में हूँ। समर्थक ने पूंछा कि पीएम मोदी भी हैं। सांसद संगम लाल गुप्ता ने कहा कि हाँ, हैं ! वही तो पार्टी दिये हैं। सांसद ने समर्थक से पूछा कि प्रतापगढ़ में सब ठीक तो है ? क्षेत्र का हाल कैसा है ? कोई समस्या तो नहीं ? यदि कोई समस्या हो तो जल्दी से बताओ तुरंत निराकरण होगा। क्योंकि साथ में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह भी हैं। पीएम को वो बतायेंगे कि अपनी जनसभा में प्रतापगढ़ की जनता से कप प्लेट पर वोट माँगा था। बाद में संशोधन कर ये कहा था कि एक वोट राष्ट्रवाद हेतु उनके नाम पर दीजिए। प्रतापगढ़ की जनता ने उनकी बात स्वीकार की। फिर प्रतापगढ़वासियों की बात को प्रधानमंत्री को स्वीकार करनी पड़ेगी। चूँकि प्रतापगढ़ की ईश्वर स्वरूप जनता ने राजा रानी को दरकिनार उन्हें बड़े मतों से जिताकर इतिहास रच दिया है तो उसका कर्ज उन्हें चुकाना है। 
सांसद समर्थक ने कहा कि ये तो बहुत खुशी की बात है। यहाँ तो सब ठीक है,सिर्फ कानून व्यवस्ता नहीं सुधर रही है। कुछ करिये प्रतापगढ़ के जंगलराज के लिये। आपके मित्र अमित शाह अब तो देश के गृहमंत्री बन चुके हैं। उन्हीं से कुछ कराईये। हाँ एक चीज की और कमी है। सांसद ने पूंछा क्या ? तो समर्थक ने कहा कि मानसून की कमी है। खेती किसानी में समस्या हो रही है। मानसून आने में रुकावट हो रही है। उसी के लिए पीएम मोदी से कह कर मानसून को प्रतापगढ़ जल्दी से मंगवा लेते बस ! चूँकि मानसून के आते ही सब लोग स्वतः व्यस्त हो जायेंगे। सांसद संगम लाल गुप्ता ने समर्थक से पूंछा कि लेखपाल ने रिपोर्ट लगा दिया है ? समर्थक ने जवाब दिया कि जो आपके साथ लंबे वाले सचिव साहेब रहते हैं वो तो डीएम साहेब तक की रिपोर्टर लगवाकर आपके साथ ले गए थे। नहीं-नहीं वो दिल्ली तो आए हैं पर यहां डिनर पार्टी सिर्फ सांसदों की है। हम सचिव साहेब से बात कर लेंगे। अच्छा ये बताओ मानसून वाली पत्रावली रुकी कहाँ हैं ? समर्थक ने कहा कि सांसद तो आप निर्वाचित हुए हो ! फाइल की लोकेशन हम का जाने ? सांसद अपने समर्थक को नाराज होते देख बड़ी विनम्रता से पूछे कि अभी सांसद नए-नए हुए हैं। 
बिना संकोच किये नव निर्वाचित सांसद संगम लाल गुप्ता ने अपने नाराज हो रहे समर्थक को समझाते हुए कहा कि बहुत सी बातें उन्हें अभी पता नहीं है ! इससे नाराज मत हो ! सिर्फ इतना बताओ कि मानसून को प्रतापगढ़ भेजवाने के लिए करना क्या होगा ? समर्थक अपनी बुद्धि विवेक से कुछ देर समझने के बाद सांसद से बोला कि मानसून वाली पत्रावली संभवतः मौसम विभाग में हो ! फिर क्या था ? सांसद ने समर्थक से कहा कि ठीक वो अभी पीएम मोदी से मिलकर मानसून वाली पत्रावली को अविलंब पास करने की बात करेंगे। हीलाहवाली करने पर अमित शाह से पैरवी करा लेंगे। इस तरह प्रतापगढ़ के नवनिर्वाचित सांसद संगम लाल गुप्ता पीएम मोदी से मिलकर प्रतापगढ़ में अटके मानसून को भेजवाया है। विपक्षियों में यदि कोई भ्रम हो तो वो अपना भ्रम तोड़ लें। चूँकि जिस तरह नरेन्द्र मोदी वाराणसी नहीं आए उन्हें तो माँ गंगा ने बुलाया था। ठीक उसी तरह इस बार का मानसून यूं ही प्रतापगढ़ नहीं आया बल्कि सांसद संगम लाल गुप्ता जी ने प्रधानमंत्री मोदी जी एवं गृहमंत्री अमित शाह से सिफारिश कराकर लाएं हैं...!!!

rameshrajdar

एक खोजी पत्रकार की सत्य खबरें जिन्हे पूरा पढ़े बिना आप रह ही नहीं सकते हैं ,इस खबर को पढ़ने के लिए............| Google || Facebook

0 टिप्पणियाँ: